"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

एएमयू शिक्षक ने बिजली उत्पादन, मसाला पीसने और व्यायाम के लिए बाइक का किया आविष्कार



अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ| अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के यूनिवर्सिटी पॉलिटेक्निक के मैकेनिकल इंजीनियरिंग सेक्शन के शिक्षक श्री शमशाद अली द्वारा तैयार की गई व्यायाम साइकिल शारीरिक व्यायाम के  साथ बिजली उत्पन्न करती और मसाले भी पीसती है। इस आविष्कार को हाल ही में बौद्धिक संपदा, भारत द्वारा पेटेंट कराया गया। इसे चलाने के लिए उपयोग होने वाली ऊर्जा एक बिजली जनरेटर और फिर एक मशीन में स्थानांतरित होती है जो मसालों को पीसती है और सब्जी का पेस्ट भी बनाती है।


श्री शमशाद ने कहा कि इस बाइक के आविष्कार के पीछे का मकसद बार-बार बिजली की कटौती का समाधान खोजना और अन्य उद्देश्यों के लिए इसका प्रयोग करना है। उन्होंने कहा कि यह साइकिल न केवल ऊर्जा का एक स्वच्छ स्रोत होगा, बल्कि यह लोगों को स्वस्थ भी रखेगा और रोगों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता पैदा करेगा।

बाइक के प्रैक्टिकल टेस्ट से पता चला कि यह बाइक 3200 आरपीएम पर 12 वोल्ट बिजली पैदा करती है। इसका उपयोग सब्जियों के साथ विभिन्न मसाले और टमाटर, प्याज और लहसुन का पेस्ट बनाने के लिए किया जा सकता है।

श्री शमशाद ने कहा कि यह बाइक व्यायाम मशीन के साथ इंटरफेस करने के लिए एक विशेष प्रणाली का उपयोग करती है। जनरेटर को कई प्रशिक्षण स्टैंड और व्यायाम बाइक की ज्यामिति को मापकर डिजाइन किया गया है।

यूनिवर्सिटी पॉलिटेक्निक के प्राचार्य प्रोफेसर अरशद उमर ने कहा कि यह श्री शमशाद का सातवां आविष्कार है जिसका पेटेंट कराया गया है।


...एएमयू सिटी गर्ल्स हाई स्कूल में ‘जल शक्ति अभियान’ कार्यक्रम आयोजित

अलीगढ़, 8 जुलाईः एएमयू सिटी गर्ल्स हाई स्कूल के विज्ञान शिक्षकों ने स्कूल में ‘जल शक्ति अभियान’ के तहत आयोजित कार्यक्रम में पानी के सावधानीपूर्वक उपयोग और सुरक्षित रखने पर जोर दिया है। वाइस प्रिंसिपल जावेद अख्तर ने कहा कि जल संसाधनों पर गंभीर दबाव है और जल संरक्षण के लिए उचित कदम उठाए जाने चाहिए।

स्कूल शिक्षक पाकीजा खान, तहमीना अशरफ और तनवीर सुल्ताना ने बारिश के पानी के समुचित संरक्षण पर जोर दिया। उन्होंने कहा पानी का बुद्धिमानी से उपयोग करना और इसे ठीक से संरक्षित करना महत्वपूर्ण है। जल संरक्षण के बारे में अधिक जानने और आने वाली पीढ़ियों के लिए जल संसाधनों को स्वच्छ और सुरक्षित रखने में मदद करने के तरीके खोजना हमारी जिम्मेदारी है।

उन्होंने जल संरक्षण के लिए सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न उपायों के बारे में भी बताया। कार्यक्रम का संचालन मुहम्मद तारिक हफीज ने किया और फरजाना नजीर ने धन्यवाद दिया।


...लॉ फैकल्टी का रैंकिंग में उत्कृष्ट प्रदर्शन

अलीगढ़, 8 जुलाईः कानूनी शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी केंद्र के रूप में अपनी प्रतिष्ठा बनाए रखते हुए अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के विधि संकाय ने हालिया आउटलुक रैंकिंग में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है।

आउटलुक-आईसीएआरई रैंकिंग 2022 में एएमयू के विधि संकाय को कानून की शिक्षा के संस्थानों में 8 वें स्थान पर है। विधि संकाय कोे बुनियादी ढांचे और सुविधाओं की दृष्टि से दूसरा स्थान, शासन और प्रवेश में तीसरा, विविधता और आउटरीच में पांचवां, और अकादमिक और अनुसंधान उत्कृष्टता में सातवें स्थान पर रखा गया है।

दूसरी ओर, इंडिया टुडे ने भारत के सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों की रैंकिंग प्रकाशित की है। इंडिया टुडे - एमडीआरए सर्वेक्षण के 4 जुलाई, 2022 के अंक में, एएमयू के विधि संकाय को ‘वैल्यू फार मनी वाले शीर्ष 10 कॉलेजों’ में तीसरा और सबसे कम फीस वाले शीर्ष 10 कॉलेजों में 9वां स्थान दिया गया है। बेस्ट वैल्यू फार मनी रैंकिंग निवेश पर लाभ (औसत वार्षिक वेतन और पूर्ण पाठ्यक्रम शुल्क) पर आधारित है।

विधि संकाय के शिक्षकों तथा वर्तमान एवं पूर्व छात्रों को बधाई देते हुए एएमयू के कुलपति प्रो तारिक मंसूर ने कहा कि गुणवत्ता और दक्षता दोनों मामले में विधि संकाय के उत्कृष्ट प्रदर्शन को देखकर खुशी हो रही है। आने वाले वर्षों में, हम कानून के उभरते क्षेत्रों में ज्ञान पैदा करने, आउटरीच का विस्तार करने और उद्योग के साथ साझेदारी को मजबूत करने के अपने लक्ष्य में दृढ़ रहेंगे। राष्ट्र निर्माण में अपना सहयोग बढ़ाने के लिए एएमयू लगातार प्रयासरत है।

डीन, फैकल्टी ऑफ लॉ प्रोफेसर मुहम्मद अशरफ ने कहा कि हमारे शिक्षक, छात्र और कर्मचारी शिक्षा और अनुसंधान के स्तर को बढ़ाने के लिए सामूहिक रूप से काम कर रहे हैं। शिक्षा और कानून की प्रेक्टिस के अतिरिक्त हमारे छात्रों ने न्यायिक सेवाओं, न्यायाधीश-अधिवक्ता जनरल, श्रम आयोगों जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और हम भविष्य में और सुधार करने का प्रयास करेंगे।

रैंकिंग समिति के अध्यक्ष प्रो. एम. सालिम बेग ने कहा कि कानून संकाय ने अकादमी और अनुसंधान उत्कृष्टता, बुनियादी ढांचे और सुविधाओं, और शासन और प्रवेश के मानकों पर अच्छा प्रदर्शन किया है। यह हमारे उत्कृष्ट प्रशासनिक प्रदर्शन, शिक्षा प्रणाली और बेहतर बुनियादी ढांचे को दर्शाता है।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.