"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

जनपद में कानून व्यवस्था को किसी भी स्थिति में बिगड़ने नहीं दिया जाएगा: एसएसपी

0

 


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़|
जिला मजिस्ट्रेट इंद्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आगामी त्योहारों एवं श्रावण मास पर शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए बैठक का आयोजन किया गया। डीएम ने कहा कि जनपदवासी गंगा जमुनी तहजीब का परिचय देते हुए आपस में मेल-मिलाप, प्रेम-सौहार्द और भाईचारे के साथ त्योहारों को मनाएं। ऐसा कोई कार्य न करें, जिससे पुलिस प्रशासन को सख्ती दिखानी पड़े। उन्होंने साफ किया कि किसी भी स्थिति में कानून व्यवस्था को खराब नहीं होने दिया जाएगा। कानून हाथ में लेने वालों के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। त्योहारों को मनाने में किसी प्रकार की नई परंपरा आरंभ करने की अनुमति नहीं है। जनपदवासी शांति एवं आपसी भाईचारे के साथ त्यौहारों को मना कर प्रदेश में मिसाल कायम करें।सोशल मीडिया पर किसी प्रकार ऐसी पोस्ट ना डाली जाए और ना ही उसे फॉरवर्ड किया जाए, जिससे माहौल खराब होने की संभावना हो। किसी प्रकार की अफवाह पर ध्यान ना दिया जाए। यदि क्षेत्र में कोई संदिग्ध दिखाई देता है तो तत्काल इसकी सूचना संबंधित पुलिस थाने अथवा जिला प्रशासन को उपलब्ध कराएं। जिला अधिकारी ने बैठक में स्थानीय लोगों से सहयोग की अपील करते हुए सुझाव भी प्राप्त किए।

     कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित शांति समिति की बैठक में आगामी त्योहारों पर सौहार्दपूर्ण वातावरण कायम रखने पर जोर रहा। जिला मजिस्ट्रेट ने जनपद में अमन चैन व भाईचारा कायम रखने की जिम्मेदारी प्रत्येक नागरिक को सौंपते हुए कहा कि यह शहर आपका है और आपको किस हाल में रहना है यह आपको तय करना है। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया की पथ,प्रकाश एवं जल की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। धार्मिक स्थलों पर साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए। नमाज सड़कों पर अदा न की जाए। धार्मिक स्थलों पर लगे लाउड स्पीकर की आवाज परिसर के बाहर नहीं जाने चाहिए।

    वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने कहा कि अब तक बड़ी से बड़ी चुनौती को आप सभी के सहयोग से कलेक्ट्रेट सभागार में बैठकर हल किया गया है। जीवन में चुनौतियां खत्म नहीं होती हैं। आप लोगों से पुलिस प्रशासन समेत जनमानस को भी बहुत अधिक अपेक्षाएं हैं। इसलिए आपकी जिम्मेदारी कहीं और बढ़ जाती है। त्यौहारों को अच्छे से मनाने के लिए गली मोहल्लों में सकारात्मक अपील करें। सभी को कानून के संबंध में साक्षर होना चाहिए। मोबाइल के द्वारा की जा रही गलतियों से नौजवान अपना भविष्य खराब ना करें। सोशल मीडिया का दुरुपयोग ना करें। अपरंपरागत धार्मिक आयोजन से बचें। त्योहारों के चलते शहरी एवं देहात क्षेत्रों में हर छोटी बड़ी घटना को गम्भीरता से लिया जाए। सभी थाना प्रभारी सुनिश्चित करें कि शराब के ठेके समय से बंद हो जाएं। यदि यातायात व्यवस्था का डायवर्जन करना है तो समय से सूचना मुहैया कराई जाए। सभी पुलिस क्षेत्राधिकारी एसडीएम से समन्वय स्थापित कर थानों में पीस कमेटी की बैठक सुनिश्चित करें। क्षेत्र में पुलिस मित्र बनाएं और आने वाले पर्वों को कुशलतापूर्वक मनाएं।

      मेयर मो.फुरकान ने कहा कि आपस में जितना भाई-चारा रहेगा, शहर उतनी ही तरक्की करेगा। नगर निगम द्वारा सभी प्रकार की व्यवस्थाएं चुस्त-दुरुस्त ढंग से की जाती हैं और आगे भी की जाती रहेंगीं। इस नागरिकों को भी अपनी जिम्मेदारी बखूबी से निभानी चाहिए। उन्होंने कहा कि अलीगढ़ में ही नहीं वरन संपूर्ण प्रदेश में आपस में भाईचारा बना हुआ है और आगे भी बना रहेगा।


...अच्छे शहरी होने का दें परिचय

कलक्ट्रेट में आयोजित शांति समिति की बैठक में डीएम ने कहा कि अलीगढ़ शहर की तहज़ीब किसी से छुपी नही है। यह शहर ताला-तालीम और अब हार्डवेयर के लिए समूचे विश्व मे अपनी पहचान बनाए हुए है। किसी भी प्रकार से माहौल खराब होने से अलीगढ़ जनपद का नाम बदनाम होने के साथ ही यहाँ की आब-ओ-हवा भी खराब होती है। उद्योग-धंधे प्रभावित होते हैं। ऐसे में हम सभी की ज़िम्मेदारी है कि एक अच्छे शहरी का परिचय देते हुए शांति और सौहार्द के साथ त्योहारों को मनाएं।


...रखें विशेष ध्यान

     आपसी प्यार से बढ़कर कुछ नहीं। एक दूसरे से मिल-जुल कर, त्योहारों में शिरकत करें। कुर्बानी के दौरान ध्यान रखें कि मलवा इधर उधर न गिरे। प्रतिबंधित जानवरों एवं सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी न करें। नाले-नालियों में कचड़ा न बहाएं। पूजा सामग्री पालीथिन में लेकर न जाएं। सिंगल यूज़ प्लास्टिक प्रतिबंधित है। हर प्रकार से कानून का पालन करें।

       नगर आयुक्त गौरांग राठी ने मेयर समेत ज़िला प्रशासन एवं नगर वासियों को आश्वस्त किया कि ईद-उल-फितर की तरह ही ईद-उल-अजा पर भी सभी प्रकार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जाएंगी।साफ-सफाई समेत बिजली, पानी कि किसी प्रकार की कोई किल्लत नहीं होने दी जाएगी। पेयजल आपूर्ति के लिए पानी के टैंकर खड़े रहेंगे। आवारा पशुओं को पकड़ने एवं साफ सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराने के लिए विशेष टीमें लगाई गई हैं। कंट्रोल रूम चौबीसों घंटे संचालित रहेगा। सीएमओ डॉ.नीरज त्यागी ने कहा कि  लंबे समय बाद खुले वातावरण में अच्छे से त्योहार मना रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी व्यक्ति में असामान्य लक्षण दिखते हैं तो तत्काल चिकित्सकीय परीक्षण कराएं। ऐसे व्यक्ति जिनका टीकाकरण नहीं हुआ है अवश्य कराएं। संक्रामक बीमारी की सूचना भी तत्काल उपलब्ध कराएं।


इन नम्बरों पर कर सकते हैं सम्पर्क

    आगामी त्यौहारों के दृष्टिगत पुलिस संबंधी सूचना के लिए 9454 402817 एंटी क्राइम हेल्प नंबर पर जानकारी दे सकते हैं, आपका नाम गोपनीय रखा जाएगा। पेयजल की व्यवस्था के लिए 8477881979 एवं हर प्रकार की समस्या के लिए 7500441344 पर संपर्क किया जा सकता है। शाहजमाल क्षेत्र में 9105053414 ऊपर कोट क्षेत्र में 7017255627 हाथीपुल क्षेत्र में 6396230033 जमालपुर क्षेत्र में 9105053403 एवं जीवनगढ़ क्षेत्र में 6399883 870 पर संपर्क किया जा सकता है।


...यह रहे उपस्थित

      एडीएम डीपी पाल, अमित कुमार भट्ट, पुलिस अधीक्षक नगर कुलदीप गुनावत, नगर मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार वर्मा, समस्त उपजिलाधिकारी, अधिशासी अधिकारी, सहायक निदेशक सूचना संदीप कुमार ,महंत कौशल नाथ, पादरी जॉनसन लाल, फादर डेनिस मसीह, फादर यूसुफ दास, फादर एस टी गिल, गट्टा पीर, सुरेश चन्द्र शेरवाल, राजेंद्र पथिक, गुलजार अहमद, मंसूर अहमद, अब्दुल सैफ़ी, त्रिमोहन चक्रवर्ती, हरिशंकर गोस्वामी, डॉ राकेश सारस्वत, बनी सिंह प्रधान बिलोना चित्ररासी, अनिल कुमार शर्मा, महेश चंद्र उपाध्याय।  


एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)