"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

DSO एवं डाक कार्यालय का मिला बुरा हाल, 13 अगस्त तक व्यवस्थाओं में सुधार के दिये कडे निर्देश



अलीगढ़, 2अगस्त(सूवि) जिलाधिकारी श्री इंद्र विक्रम सिंह द्वारा मंगलवार को कलक्ट्रेट परिसर में एवं मुख्य कार्यालयों का निरीक्षण किया गया। उन्होंने कलेक्ट्रेट में साफ-सफाई रखने के साथ ही कार्यालयों में पत्रावलियों, अभिलेखों का उचित रख-रखाव के कड़े निर्देश दिए। ज़िला पूर्ति अधिकारी कार्यालय में रखे गमले में रोपित पौधे सूखे मिलने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि रोपित पौधों का ख्याल रखना चाहिए। डाक कार्यालय में अभिलेखोंकुर्सीमेज़ व्यवस्था अस्त-व्यस्त मिलने पर नसीहत देते हुए कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। उन्होंने कहा कि 13 अगस्त तक कार्यालय में व्यवस्थाओं को सुधार लेंवह पुनः कार्यालय का निरीक्षण करेंगे।

        जिला अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह जहां रोज कलेक्ट्रेट कार्यालय उपस्थित होकर जन शिकायतों का निस्तारण कर रहे हैं, वहीं मंगलवार को उन्होंने जनता दर्शन के उपरांत अचानक ही कलेक्ट्रेट परिसर एवं विभिन्न कार्यालयों का सघन निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि आज का निरीक्षण कलक्ट्रेट परिसर में सार्वजनिक स्थानों का सही सदुपयोग एवं अपनी समस्याओं को लेकर आने वाले जनसामान्य को वह सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराना हैजिसका वह हकदार हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जनशिकायतों के निस्तारण एवं शिकायत कर्ताओं को बुनियादी सुविधायें दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आगामी 13 से 15 अगस्त तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम का आयोजन किए जाने के साथ ही 15 अगस्त को बडे ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाना है। उन्होंने नाज़िर अर्पित शर्मा को कलेक्ट्रेट परिसर में खड़े पेड़ों की कटाई छँटाई करने के निर्देश दिए। विभिन्न पार्कों में मौलश्रीफाइकसचंपा के पौधे रोपित करने की भी बात कही। निरीक्षण के दौरान डीएम इन्द्र विक्रम सिंह गंदगी युक्त शौचालय में प्रवेश करने से नहीं चूके, जिस पर उन्होंने नाजिर अर्पित शर्मा को निर्देशित किया कि 3 शिफ़्ट में सफाई सुनिश्चित कराएं एवं जल निकासी पर भी ध्यान दिया जाए। नजारत में रखे पुराने टायरों को फ्लावर पॉट के तौर पर इस्तेमाल करने की भी नसीहत दी। संयुक्त कार्यालय में प्रशासनिक अधिकारी हेमंत जैन को कार्यालय की व्यवस्थाओं में सुधार करने के लिए आवश्यक निर्देश दिए। स्वर्ण जयंती स्तंभ पार्क में खराब पड़े फव्वारे को हटाकर ग्रीनरी स्थापित करने और अपनी आयु पूर्ण कर चुके सूखे पेड़ों को भी हटाए जाने के निर्देश दिए। जिला पूर्ति कार्यालय में गमले में रोपित पौधे सूखे पड़े होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि आंखों के सामने पौधे सूख रहे हैं। यह कतई अच्छी बात नहीं है। उन्होंने स्टाफ को निर्देशित किया कि प्रतिदिन पानी एवं धूप दिखाई जाए। जिला पूर्ति कार्यालय के बाहर स्थापित शौचालय का उचित रखरखाव न होने पर तोड़ने के निर्देश दिए गए।

       कलक्ट्रेट में पुराने भवन में स्थापित डाक कार्यालय का हाल अत्यंत ही खराब पाया गया। लोग जहां जमघट लगा बैठे पाए गए। निरीक्षण कर्ताओं को उस वक्त हंसी आई जब एक व्यक्ति एक नहीं दो कुर्सी पर बैठा हुआ पाया गया। डाक कार्यालय प्रधान की कुर्सी पर पड़ी तौलिया बहुत ही गन्दी पाई गईं। जिलाधिकारी ने 13 अगस्त तक कार्यालय की व्यवस्थाओं में सुधार लाने के निर्देश दिए। पुरानी कलेक्ट्रेट में खड़े बरगद की लताओं द्वारा छत में जगह बना ली थी, जिसे जिलाधिकारी द्वारा सफाईकटाईछटाई कराने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कार्यालय परिसर एवं पार्कों में अनावश्यक रोपित पौधों को अन्यंत्र रोपित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कलक्टेªट जनपद का सचिवालय होता है, इसकी गरिमा को बनाये रखने का दायित्व हम सभी अधिकारियों कर्मचारियों पर है। इस अवसर पर एडीएम सिटी राकेश कुमार पटेल, एडीएम वित्त एवं राजस्व अमित कुमार भटट, सिटी मजिस्टेªट प्रदीप कुमार वर्मा, डिप्टी कलक्टर मोहम्मद जफर उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.