अलीगढ़ के डीएम ने पहले दिखाई हरी झंडी , फिर खुद ही चलाई मेटाडोर, यह देख सब रह गए चकित

0


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़| कलेक्ट्रेट पर खड़ी मेटाडोर में अलीगढ़ के डीएम ड्राइवर वाली सीट पर बैठ गए और उन्होंने मेटाडोर को स्टार्ट किया. कलेक्ट्रेट के गेट से बाहर मेन रोड पर गेट से आगे तक मेटाडोर को चलाकर जब रोका, तो यह सब देख कर सभी आश्चर्यचकित रह गए. मेटाडोर को बंद कर अलीगढ़ के डीएम जैसे ही ड्राइवर साइड से नीचे उतरे. मेटाडोर को स्वयं ड्राइव करने की वजह जैसे ही सभी को पता चली, सभी ने उनके जज्बे को सलाम किया.


       हर घर तिरंगा चेतना रथ यात्रा की मेटाडोर को डीएम ने स्वयं चलाकर किया रवाना... आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत हर घर तिरंगा चेतना रथ यात्रा को अलीगढ़ के डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने हरी झंडी दिखाकर औपचारिक तौर पर रवाना किया, परंतु उस रथ यात्रा की मेटाडोर को स्वयं चलाने की इच्छा जाहिर करते हुए अलीगढ़ के डीएम इंद्र विक्रम सिंह रथ यात्रा के साथ सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की एलईडी मेटाडोर की ड्राइवर सीट पर बैठ गए. मेटाडोर को स्टार्ट किया और उसे कलेक्ट्रेट के गेट से बाहर की ओर चलाते हुए मेन रोड पर कुछ आगे तक चलाया. उसके बाद डीएम इंद्र विक्रम सिंह सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की एलईडी को बंद कर, जैसे ही नीचे उतरे तो, उन्होंने जो पत्रकारों को सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की एलईडी वैन चलाने की वजह बताई, वह सराहनीय थी.


       हर घर तिरंगा चेतना रथ यात्रा को करना था रवाना... डीएम इंद्र विक्रम सिंह से जब पत्रकारों ने पूछा कि आपने रथ यात्रा वाहन के साथ सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की मेटाडोर को स्वयं चला कर रवाना किया, ऐसा क्यों, तो इस पर डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि मेरे पास हैवी व्हीकल चलाने का ड्राइविंग लाइसेंस है. मैं हर घर तिरंगा चेतना रथ यात्रा को हरी झंडी दिखाने के बाद स्वयं ड्राइव कर जनता को यह संदेश देना चाहता हूं कि आजादी के अमृत महोत्सव में हर घर तिरंगा अभियान से दिखावे के लिए नहीं, बल्कि दिल से जुड़े क्योंकि यह आजादी बहुमूल्य है.


     


 विभाजन की विभीषिका पर भाव विभोर हुए डीएम... कलेक्ट्रेट सभागार में अलीगढ़ के डीएम इंद्र विक्रम सिंह और भारत सरकार के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी नीरज कुमार भट्ट एवं सहायक निदेशक सूचना सन्दीप कुमार ने आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत 14 से 17 अगस्त तक अलीगढ़ में होने वाले फ्री इवेंट के बारे में पत्रकार वार्ता में जानकारी साझा की. डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने 14 अगस्त 1947 के दिन  हुए देश के विभाजन पर कहा कि इस दिन अखंड भारत 2 हिस्सों में बंटा हिन्दुस्तान और पाकिस्तान. देश को आजाद होने के साथ ही एक खुशी तो थी, पर एक दर्द भी था. विभाजन की विभीषिका में भारत छोड़कर बहुत से पाकिस्तान में और पाकिस्तान छोड़कर बहुत से भारत आए. उन्होंने अपने घरों को छोड़ने का दर्द सहा. जैसे आप एक शहर से दूसरे शहर जाते हैं,औ नौकरी के लिए या बिजनेस के लिए, तो आपको अपने परिवार से दूर होने, आपको अपने परिवेश से दूर होने का दर्द सहना पड़ता है. भारत के विभाजन की विभीषिका कितनी दर्द देने वाली होगी, इसमें पूरी की पूरी पीढ़ी को एक जगह से दूसरी जगह जाना पड़ा. विभाजन की विभीषिका का इतिहास नई पीढ़ी को पता होना चाहिए, क्योंकि अगर इसके बारे में उसे पता नहीं होगा तो, वह आजादी के मूल्य को नहीं समझ पाएगी.


       14 से 17 अगस्त तक होंगे ये कार्यक्रम... डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने बताया कि 15 से 17 अगस्त तक भारत सरकार के केंद्रीय संचार ब्यूरो, क्षेत्रीय कार्यालय व अलीगढ़ के सूचना विभाग द्वारा विशेष संपर्क एवं जन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा, जिसमें चित्रकला प्रदर्शनी, रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा. यह कार्यक्रम नुमाइश मैदान के दरबार हॉल, कृष्णांजलि सभागार में आयोजित किए जाएंगे.


       - 15 अगस्त को प्रातः 10.30 बजे से बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह आजादी का अमृत महोत्सव, विभाजन की विभीषिका, केंद्र सरकार के 8 साल पूरे होने पर चित्रकला प्रदर्शनी की शुरुआत करेंगे. नृत्य, गायन आदि सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे. जयपुर के राजधानी बैंड की विशेष प्रस्तुति होगी. स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व शहीदों के परिवारों को सम्मानित किया जाएगा.


       - 16 अगस्त को प्रातः 10.00 बजे से विभिन्न ब्रास बैंडों की प्रस्तुति होगी. प्रभात फेरियों का समापन होगा. साथ ही कठपुतली शो, मैजिक शो, कॉमेडी शो, देशभक्ति गायन का आयोजन होगा. दोपहर में 2 बजे से 867 ग्राम प्रधानों की बाइक रैली का स्वागत, नृत्य नाटिका, सर्वश्रेष्ठ प्रधानों का सम्मान होगा।


       - 17 अगस्त को प्रातः 11 बजे से सांस्कृतिक कार्यक्रम, लोकगीत, नौटंकी प्रस्तुति होगी. स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिवार पर चर्चा, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व शहीदों का सम्मान किया जाएगा.


       कवि सम्मेलन आयोजन... 17 अगस्त को सांय 7रू00 से कल सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. कवि सम्मेलन में डॉ सोम ठाकुर, प्रो ओमपाल सिंह निडर, प्रेम किशोर पटाखा, व्याख्या मिश्रा, डॉ अंजना कुमार, प्रख्यात मिश्रा, नरेंद्र शर्मा नरेंद्र, राम नरेश पाल, विनय प्रताप सिंह, मंजुल मयंक, महेश मंगल उमा शंकर राय आदि कवि-कवियत्री शिरकत करेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)
...अपने इलाके की खबरों/वीडियो/फोटो अलीगढ मीडिया पर प्रकाशन हेतु व्हाट्सअप या ई-मेल करें:aligarhnews@gmail.com

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top