मेधावी मेडिकल/दंत चिकित्सा छात्रों को दिए टैबलेट, स्मार्ट फोन का वितरण

0



अलीगढ अगस्त: अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय के ए के तिब्बिया कॉलेज के मोआलिजात विभाग ने "हमारा आयुष हमारा स्वास्थ्य" के अनुपालन में मधुमेह और उच्च रक्तचाप की जांच के लिए एक मुफ्त स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया। शिविर में लगभग 160 रोगियों को देखा गया और 46 रोगियों की मधुमेह और उच्च रक्तचाप की जांच की गई।

प्रोफेसर (श्रीमती) तबस्सुम लताफतप्रोफेसर तंज़ील अहमदप्रोफेसर बदरूद्दुजा खानडॉ हिना मुकीमडॉ सईदुर रहमानडॉ अजरा परवीनडॉ मोहम्मद अफिफ खान (जूनियर रेजिडेंट्स) और अब्दुल्ला फैजुल हसन की देखरेख में स्क्रीनिंग की गई। स्क्रीनिंग कार्य में शाहजेब अहमदमोहम्मद सलमानमोहम्मद मुशफीक और सुंबुल आलम ने अपना सहयोग दिया।

डॉ जमाल अजमतडॉ मुरसलीन नसीर और डॉ एस जावेद अली ने अच्छे स्वस्थ्य के लिए आहार और जीवन शैली में बदलाव का परामर्श दिया।

 

मेधावी मेडिकल/दंत चिकित्सा छात्रों को दिए टैबलेटस्मार्ट फोन का वितरण

अलीगढ़, 2 अगस्त: उत्तर प्रदेश सरकार की डिजीशक्ति योजना के अंतर्गत अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के मेडिसिन संकाय के मेधावी एमबीबीएस और बीडीएस इंटर्न और स्नातकोत्तर छात्रों को युवाओं के डिजिटल सशक्तिकरण में तेजी लाने के उद्देश्य से मुफ्त टैबलेट और स्मार्ट फोन दिए गए।

छात्रों को गैजेट्स वितरित करते हुएमुख्य अतिथिअलीगढ आयुक्तश्री गौरव दयाल (आईएएस) ने कहा कि इक्कीसवीं सदी की मांगों को स्वीकार करते हुए यूपी सरकार ने डिजिटल शिक्षा तक युवाओं की पहुंच को आसान बनाने के साथ ही उनके भविष्य को सुरक्षित करने के लिए एक मानक स्थापित किया है।

उन्होंने कहा कि इन टैबलेट और स्मार्ट फोन के वितरण से छात्रों के बीच सरकारी विकास योजनाओं और कार्यक्रमों के कार्यान्वयन में काफी मदद मिलेगी। समय-समय पर उनके साथ कई अन्य जानकारियां और अपडेट भी साझा किए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रति आभार व्यक्त करते हुएमेडिसिन संकाय के डीनप्रोफेसर राकेश भार्गव ने कहा कि आवश्यक गैजेट्स तक पहुंच मेडिकल और डेंटल छात्रों को उनकी पढ़ाई में तनाव कम करने में मदद करती है क्योंकि उन्हें कई बड़ी पाठ्यपुस्तकों और मेडिकल पत्रिकाओं को पढ़ने और ट्यूटोरियल में भाग लेने की आवश्यकता होती है। इस के प्रयोग से शिक्षण कार्य अधिक दिलचस्प हो जाता हैऔर जब आप पढ़ाई के लिए सर्वोत्तम उपकरणों का उपयोग करते हैं तो उत्पादकता भी बढ़ जाती है।

जेएन मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपलप्रोफेसर शाहिद ए सिद्दीकी ने कहा कि प्रौद्योगिकी का युग सभी क्षेत्रों में तेजी से बढ़ रहा हैखासकर स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में बिना स्मार्ट गैजेट्स के मेडिकल और डेंटल छात्रों को कठिनाई हो रही है।

नोडल अधिकारीमाइक्रोबायोलॉजी विभागडॉ आदिल रजा ने जोर दिया कि टैबलेटस्मार्ट फोन और अन्य गैजेट एक डॉक्टर बनने की यात्रा को कम तनावपूर्ण और आसान बनाने के लिए हैं।

कार्यक्रम का संचालन डॉ हिबा समी ने किया।

 

विश्व स्तनपान सप्ताह के उपलक्ष में कार्यकर्मों का आयोजन

अलीगढ़, 2 अगस्त: विश्व स्तनपान सप्ताह के उपलक्ष में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जेएन मेडिकल कॉलेज के सामुदायिक चिकित्सा विभाग के ग्रामीण स्वास्थ्य प्रशिक्षण केंद्र (आरएचटीसी)जवान द्वारा विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया।

मेडिसिन फैकल्टी के डीनप्रोफेसर राकेश भार्गव ने उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में भाग लियाजबकि सामुदायिक चिकित्सा विभाग की अध्यक्षप्रोफेसर सायरा महनाज़ और प्रोफेसर अतहर अंसारी इस अवसर पर मानद अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

अपने स्वागत भाषण मेंप्रोफेसर सायरा महनाज़ ने स्तनपान के महत्व और इसके उपलक्ष में मनाये जाने वाले सप्ताह के बारे में प्रकाश डाला। उनहोंने कहा कि विश्व स्तनपान सप्ताह के लिए इस वर्ष की थीम 'स्तनपान के लिए कदम बढ़ाएं: लोगों को शिक्षित करें और उन्हें सहयोग देंहै।

उन्होंने कहा कि महिलाओं और बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य और भलाई के लिए इष्टतम स्तनपान महत्वपूर्ण है। डब्ल्यूएचओ और यूनिसेफ जन्म के 1 घंटे के भीतर स्तनपान शुरू करनेजीवन के पहले 6 महीनों के लिए विशेष रूप से स्तनपान कराने और 2 साल या उससे अधिक उम्र तक स्तनपान जारी रखने की सलाह देते हैं। पोषण की दृष्टि से सुरक्षित पूरक (ठोस) भोजन की शुरूआत बच्चे के 6 महीने की उम्र में हो सकती है।

डॉ. तबस्सुम नवाब ने स्तनपान सप्ताह के दौरान होने वाली गतिविधियों से अवगत कराया जिसमें जवान में स्कूली बच्चों के लिए कार्यक्रमजवान और सुमेरा गांवों में महिलाओं और किशोरियों के लिए स्वास्थ्य वार्ताप्रश्नोत्तरी और पोस्टर बनाने की प्रतियोगितास्कूली बच्चों द्वारा रैलीसामुदायिक व्याख्यान और पैरामेडिकल और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए एक कार्यशाला का आयोजन शामिल हैं।

उन्होंने गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को सी-सेक्शन वाली महिलाओं में स्तनपान की शुरुआत के बारे में एक स्वास्थ्य वार्ता भी दी और बताया कि परिवार के अन्य सदस्य महिला को इसके लिए कैसे प्रोत्साहित कर सकते हैं।

इस अवसर पर प्रोफेसर अतहर अंसारी ने जोर देकर कहा कि नवजात शिशु के लिए स्तन का दूध एक संपूर्ण भोजन है और स्तनपान कराने पर माँ को विभिन्न स्वास्थ्य लाभ होते हैं।

फैकल्टी ऑफ मेडिसिनप्रोफेसर राकेश भार्गव ने नवजात शिशुओं को और विशेष रूप से प्री-मैच्योर नवजात शिशुओं को स्तनपान के लाभों के बारे में बताया और अपने नवजात शिशुओं को स्तनपान कराने में असमर्थ माताओं के लिए ब्रेस्ट-मिल्क बैंक विकसित करने के महत्व पर भी जोर दिया।

प्रभारी सदस्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ. उज्मा इरम ने प्रतिभागियों का धन्यवाद ज्ञापित किया जबकि सीनियर रेजिडेंट डॉ. समीना अहमदजूनियर रेजिडेंट्स डॉ. शाहनवाजडॉ. इरमडॉ. जुबैरडॉ. असराडॉ. दानिश कमालडॉ. क़यामुद्दीनडॉ. जाबिरइंटर्नमेडिको-सोशल वर्कर श्रीमती ज़कियाश्री तौसीफ़श्री जावेदश्री हसन कार्यक्रम में शामिल हुए।

एमेजॉन द्वारा एएमयू के छात्रों का चयन

अलीगढ़, 2 अगस्त: ई-कॉमर्स दिग्गजअमेज़ॅन ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के अरबी विभाग के दो छात्रों को अकाउंट हेल्थ सपोर्ट विशेषज्ञ के रूप में नौकरी के लिए चयनित किया है।

प्रशिक्षण और प्लेसमेंट अधिकारी सामान्यसाद हमीद ने कहा कि चयनित छात्रों में एम सुलेमान और अहसान उल हक शामिल हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में बहुराष्ट्रीय कंपनियों में अधिक विदेशी भाषा के छात्रों की भर्ती की जाएगी।

 

एएमयू तिब्बिया कालिज द्वारा मधुमेह व उच्च रक्तचाप की जांच के लिए निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन

अलीगढ 2 अगस्तः अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय के एके तिब्बिया कॉलेज के मोआलीजात विभाग ने हमारा आयुष हमारा स्वास्थ्य के निर्देशानुसार मधुमेह और उच्च रक्तचाप की जांच के लिए एक मुफ्त स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया। शिविर में लगभग 160 रोगियों का परीक्षण किया गया और 46 रोगियों की मधुमेह और उच्च रक्तचाप की जांच की गई।

विभागाध्यक्ष प्रोफेसर (श्रीमती) तबस्सुम लताफतप्रोफेसर तंज़ील अहमदप्रोफेसर बदरूद्दुजा खानडॉ हिना मुकीमडॉ सईदुर रहमानडॉ अजरा परवीनडॉ मोहम्मद अफीफ खान (जूनियर रेजिडेंट्स) और अब्दुल्ला फैजुल हसन की देखरेख में रोगियों की स्क्रीनिंग की गई। स्क्रीनिंग कार्य में शाहजेब अहमदमोहम्मद सलमानमोहम्मद मुशफिक और सुंबुल आलम ने अपना सहयोग दिया।

डॉ जमाल अजमतडॉ मुरसलीन नसीर और डॉ एस जावेद अली ने अच्छे स्वस्थ्य के लिए आहार और जीवन शैली में बदलाव का परामर्श दिया।

-----------------------------

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)
...अपने इलाके की खबरों/वीडियो/फोटो अलीगढ मीडिया पर प्रकाशन हेतु व्हाट्सअप या ई-मेल करें:aligarhnews@gmail.com

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top