AligarhCity: इलैक्ट्रिक बसों का रूट को पुर्नगठन करने के लिए प्रस्ताव देने का डीएम ने दिया निर्देश

0
जेम पोर्टल के माध्यम से आउटसोर्सिंग से कार्यालय अधीक्षक, कार्यालय सहायक, सीए की नियुक्ति के लिये पृथक से प्रस्ताव देने के निर्देश दिये। इसके साथ बैठक में सीयूजी, हैल्पलाइन नम्बर, स्टेशनरी एवं कार्यालय फर्नीचर लिये जाने के लिए सहमति व्यक्त की गयी


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़ 14 सितम्बर 2022(सू0वि0) मण्डलायुक्त गौरव दयाल की अध्यक्षता में नगर में सुचारू यातायात व्यवस्था एवं नगर विकास सेवा द्वारा संचालित इलैक्ट्रिक बसों के सफल संचालन के सम्बन्ध में डीएम-एसएसपी के साथ अलीगढ़ सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड की द्वितीय बैठक का आयोजन किया गया। कमिश्नर ने कहा कि शहर के सुनियोजित विकास के लिये सुचारू यातायात व्यवस्था एक संजीवनी की तरह कार्य करती है। केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा भविष्य की आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए इलैक्ट्रिक बसों का संचालन नगर विकास विभाग के माध्यम से कराया जा रहा है। इससे एक ओर जहां पर्यावरण संरक्षण को बल मिला है वहीं आम जनमानस को सुविधाजनक एवं आरामदायक यात्रा मिल रही है। उन्होंने कहा कि अभी भी इनमें सुधार की काफी गुंजाइश है और इसी के लिए यह बैठक आहुत की गयी है।


                बैठक में आरएम रोडवेज श्रीमती शरद सिंह ने बताया कि वर्तमान में 14 इलैक्ट्रिक बसों का संचालन पीएमआई कम्पनी के माध्यम से विभिन्न रूट्स पर किया जा रहा है। शासन द्वारा 10 और बसें उपलब्ध कराई गयीं हैं, जिनका रूट निर्धारण किया जाना है। मण्डलायुक्त ने कहा कि जनहित को सर्वोपरि रखते हुए रूट निर्धारण समिति के माध्यम से डीएम-एसएसपी की अध्यक्षता में नये रूट्स का प्रस्ताव रखा जाए। उन्होंने कहा कि नये रूट्स के गठन के साथ ही वर्तमान में संचालित रूट्स पर भी गहन समीक्षा कर उन पर बसों की संख्या एवं उनकी टाइमिंग निर्धारित की जाए। उन्होंने रूट निर्धारण में आमजन की सुविधा एवं राजस्व वृद्धि पर जोर देते हुए कहा कि सबसे कम एवं सबसे अधिक व्यस्त मार्ग पर गहनता से विचार विमर्श करें ताकि उन पर बसों की संख्या को कम या अधिक किया जा सके।


                जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने आमजन की सुविधा के लिए निर्धारित रूट पर बसों के ठहरने के लिए स्थान चिन्हित करने के साथ ही आवश्यकतानुसार बस स्टॉप सेंटर के निर्माण या बस स्टॉप साइन बोर्ड लगाने के लिये नगर निगम को निर्देश दिये। उन्होंने राजस्व वृृद्धि के लिये बसों पर नियमानुसार विज्ञापन कराए जाने की भी बात कही। आरएम रोडवेज ने बताया कि खेरेश्वर मन्दिर से बौनेर तक संचालित रूट पर लगभग 20,000 रूपये प्रतिदिन का राजस्व प्राप्त होता है तो वहीं मंजूरगढ़ी से छर्रा अड््डा तक के लिये लगभग 2500 रूपये ही राजस्व प्राप्त हो रहा है। इस पर जिलाधिकारी ने नये सिरे से इलैक्ट्रिक बसों का रूट पुर्नगठन करने के लिए प्रस्ताव देने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि यदि आवश्यकतानुसार नगर निगम सीमा में शामिल हुए नये ग्रामों तक भी बस सेवा को बढाया जाए ताकि अधिक से अधिक नागरिक इससे लाभान्वित हो सकंे।


                बैठक में जेम पोर्टल के माध्यम से आउटसोर्सिंग से कार्यालय अधीक्षक, कार्यालय सहायक, सीए की नियुक्ति के लिये पृथक से प्रस्ताव देने के निर्देश दिये। इसके साथ बैठक में सीयूजी, हैल्पलाइन नम्बर, स्टेशनरी एवं कार्यालय फर्नीचर लिये जाने के लिए सहमति व्यक्त की गयी। बैठक में संभागीय परिवहन अधिकारी फरीदउद््दीन, अपर नगर आयुक्त अरूण कुमार गुप्त, कम्पनी सचिव दिलीप दीक्षित समेत सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)
...अपने इलाके की खबरों/वीडियो/फोटो अलीगढ मीडिया पर प्रकाशन हेतु व्हाट्सअप या ई-मेल करें:aligarhnews@gmail.com

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top