"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

एमएसपी की कानूनी गारंटी, आंदोलन के दौरान केसों की वापसी, संपूर्ण कर्जा मुक्ति प्रमुख मांग

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़।  संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय आह्वान पर किसान संगठनों देश भर में सभी लोकसभा एवं राज्यसभा सांसदों को ज्ञापन सौंपें। 383 दिन चले ऐतिहासिक किसान आंदोलन की जीत के समय तीन कृषि कानूनों की वापसी के अलावा सरकार के शेष वायदों की ओर ध्यानाकर्षण किया गया। जिले में अलीगढ़ के अलावा एटा और हाथरस सांसदों के आवास कार्यालयों पर जाकर संयुक्त किसान मोर्चा के राज्य मीडिया प्रभारी शशिकान्त के नेतृत्व में किसान नेताओं ने ज्ञापन सौंपे। ज्ञापन के जरिए एम एस पी की कानूनी गारंटी, आन्दोलन के दौरान किसानों के विरूद्ध दर्ज केसों की वापसी, बिजली संशोधन विधेयक की वापसी, पराली जलाने पर जुर्माने के आदेश की वापसी, संपूर्ण कृषि कर्जा मुक्ति, किसान बीमा, किसान पेंशन की मांग दोहरायी गई।

  तय कार्यक्रम के अनुसार अलीगढ़, हाथरस और एटा में सक्रिय भाकियू, क्रांतिकारी किसान यूनियन, किसान सभा और जय किसान आन्दोलन के प्रमुख नेता और कार्यकर्ता 11 बजे तस्वीर महल स्थित राजा महेन्द्र प्रताप सिंह पार्क में एकत्रित होना शुरू हुए। जहाँ क्षेत्रीय मांगों पर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपने के पश्चात एटा सांसद राजवीर सिंह राजू के आवास पहुँचे। सैंकड़ों की संख्या में उपस्थित किसानों को सांसद ने आश्वासन दिया कि वे किसानों की मांगों के समर्थन में है और उनकी मांगों को संसद में मजबूती के साथ रखेंगे। 

  अलीगढ सांसद सतीश गौतम के दिल्ली होने पर उनके प्रतिनिधि भोलाराम दिवाकर को ज्ञापन सौंपा गया। इसके पश्चात किसान संगठनों के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का दल सुरक्षा विहार कालोनी स्थित हाथरस सांसद राजवीर दिलेर के आवास पहुँचा।  सांसद राजवीर दिलेर ने ज्ञापन में उल्लेखित मांगों के प्रति समर्थन जाहिर किया। 

   ज्ञापन के जरिए संयुक्त किसान मोर्चा ने देश भर के सभी सांसदों से अनुरोध किया कि वे क्षेत्र के किसानों की ओर से संसद में केन्द्र सरकार द्वारा किसानों को दिए गए आश्वासनों को पूरा न करने के मुद्दे को अविलंब उठाये और आश्वासनों को तुरंत पूरा करने के लिए केंद्र सरकार को बाधित करें। 

   सासंदों को ज्ञापन सौंपते समय संयुक्त किसान मोर्चा के राज्य मीडिया प्रभारी शशिकान्त के अलावा क्रांतिकारी किसान यूनियन के प्रदेश सह प्रभारी चौधरी गजेन्द्र सिंह, मंडल प्रभारी सुरेश चन्द्र गांधी, जिलाध्यक्ष कमलेश यादव, भाकियू मंडल अध्यक्ष विमल तोमर, जिलाध्यक्ष ओ पी कमांडो, चौधरी नबाब सिंह, किसान सभा के जिला अध्यक्ष सूरजपाल उपाध्याय, जिला सचिव इदरीश मोहम्मद, जय किसान आन्दोलन के आत्म प्रकाश सिंह, चौधरी नगेन्द्र सिंह, यशवीर सिंह यादव, कर्मवीर सिंह, डा संजीव यादव, सत्यवीर सिंह, रिंकू शर्मा, मुकेश राजपूत,  रनसिंह, रामबाबू, विनय कुमार, रामकुमार चौधरी, रमेश बघेल, वीरपाल सिंह, मोहित ठाकुर, शनि यादव, अमन यादव, पंकज कुमार, सुरेन्द्र यादव आदि सैकड़ों नेता एवं कार्यकर्ता शामिल रहे|

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.