"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

उच्चाधिकारियों के निरीक्षण के बावजूद निर्माण कार्यों में शिथिलता लापरवाही का द्योतक

 


 *डीएम ने निर्माणाधीन राज्य विश्वविद्यालय का किया स्थलीय निरीक्षण

*मई 2023 की डेडलाइन को नहीं किया जाएगा रिवाइज*

*लेबर बढ़ाकर डबल शिफ्ट में निर्माण कार्य पूरा किया जाए-डीएम इन्द्र विक्रम सिंह*

आलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ़ 07 अक्टूबर(सूवि)। जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने शुक्रवार को निर्माणाधीन राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय का मौके पर पहुंचकर निर्माण कार्य निरीक्षण किया। डीएम ने निरीक्षण के दौरान पाया कि कुछ साइट पर काम चल रहा है और कुछ पर नहीं चल रहा है और जिन साइट पर काम चल रहा है वहां वर्कर की संख्या काफी कम है। इस पर उन्होंने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि पूर्व निरीक्षण में दिये गये निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा है। विश्वविद्यालय के निर्माण कार्य पर मुख्यमंत्री जी द्वारा सीधी मॉनिटरिंग की जा रही है। उन्होंने कार्यदायी संस्था के अधिकारियों को स्पष्ट किया कि किसी भी हालत में निर्माण कार्य पूरा करने की डेडलाइन को बढ़ाया नहीं जाएगा। 

जिलाधिकारी ने कहा कि मा0 मंत्रियों द्वारा भी विश्वविद्यालय का भ्रमण कर यहां निर्माण कार्य की फीडबैक मुख्यमंत्री जी को लगातार दी जा रही है। अभी हाल ही में दो राज्य मंत्रियों समेत कैबिनेट मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही जी एवं प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा सुधीर महादेव बोबडे द्वारा निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर कार्य की धीमी प्रगति पर कड़ी नाराजगी जताई गयी है। इसके बावजूद भी निर्माण कार्यों में शिथिलता स्पष्ट तौर पर लापरवाही का द्योतक है। डीएम ने कहा कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय केंद्र एवं प्रदेश सरकार का महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है और सरकार की मंशा है कि जनपद एवं मण्डल के छात्र-छात्राओं को जल्द से जल्द इसका लाभ प्राप्त हो सके। राज्य विश्वविद्यालय का निर्माण कार्य मई 2023 में पूरा करना है। 

डीएम ने कार्यदायी संस्था एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह डेडलाइन के अनुसार प्रत्येक कार्य को पूरा करने के लिये छोटे-छोटे लक्ष्य निर्धारित करें और तद्नुसार लेबर बढ़ाकर दो शिफ्टों में युद्धस्तर पर निर्माण कार्य को जारी रखा जाए, अन्यथा की स्थिति में प्रोजेक्ट समय से पूरा न होने पर संस्था को ब्लैक लिस्टेड करने की कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। 

--

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.