"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

नेत्रदान के लिए जागरूकता दिवस के रूप में देहदान कर्त्तव्य संस्था ने मनाया विश्व दृष्टि दिवस| AligarhMedia

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम अलीगढ| जीते जी रक्तदान , मृत्यु उपरांत नेत्रदान और देहदान के पवित्र लक्ष्य को लेकर चल रही संस्था देहदान कर्तव्य संस्था ने विश्व दृष्टि दिवस पर आयोजित जागरूकता अभियान के लिए अपने जिला कार्यालय पर एक कार्यक्रम आयोजित किया गया ।देहदान कर्तव्य संस्था के सदस्य भुवनेश आधुनिक ने बताया कि इस कार्यक्रम में देहदान कर्तव्य संस्था के नवीन सदस्यों का सम्मान भी किया गया । 


 देहदान कर्तव्य संस्था के संरक्षक राजाराम मित्र ने कहा कि नेत्रदान के लिए हम सबको आगे आना चाहिए । सरकार जितना कार्य कर रही है हम सबको भी आगे आकर लोगों में जागृति लाने का कार्य करना चाहिए । इस संबंध में केंद्र सरकार भी जीवन बीमा निगम को साथ लेकर कानून बनाए और नेत्रदान को अनिवार्य रूप से लागू कराए तो बहुत हद तक कॉर्निया की कमी को पूरा किया जा सकता है । 

      देहदान कर्तव्य संस्था के अध्यक्ष डॉ एस के गौड़ की अध्यक्षता में  विश्व दृष्टि दिवस  पर नेत्रदान के प्रति जागरूकता लाने की बात कहते हुए बताया कि आंख कुदरत की अमूल्य निधि है। इसकी  पूरक केवल कौरनिया ही है। यह केवल नेत्रदान ( मरणोपरांत ) से ही सम्भव है।


 देहदान कर्तव्य संस्था के सचिव डॉ जयंत शर्मा ने सभी का आह्वान करते हुए कहा कि मृत शरीर को जलाने से पहले नेत्रदान कर दो लोगों को रंगीन दुनियां देखने के हेतु सहयोगी बनें। कोषाध्यक्ष हितेष छाबड़ा ने कहा कि लोग अब नेत्रदान के प्रति जागरुक हो रहे हैं। मीडिया प्रभारी डॉ डी के वर्मा ने कहा कि संस्था काफी लंबे समय से नेत्रदान के प्रति लोगों को हकीकत बयां कर जागरूक करती आ रही है।


इस समारोह में अनिल गौड़, भुवनेश वार्ष्णेय ,  इंजी0 योगेश शर्मा, सुनील कुमार, हैंडस फॉर हेल्प, डॉ डी के वर्मा, एडवोकेट सौरभ अग्रवाल, अजय राणा, जावेद, राकेश सक्सेना , विनय गुप्ता आदि सहयोगी बने।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.