"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

छेड़छाड़ पीड़िता को थाने में बिठाया, आरोपी को मेहमान की तरह साथ घुमाया, पीड़िता के परिजनों को ही 151में भेजा जेल! पढ़िए, पुलिस का खेल

 

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, हरदुआगंज/अलीगढ| हरदुआगंज थाना पुलिस के पास शिकायत लेकर जाने से पहले जरा सोच लीजिये| यहाँ की पुलिस पीड़ित को ही जेल भेज देती है| ज्यादार मामलों में पुलिस यही देखने को मिल रहा है, जहाँ कार्रवाई करने की बजाय पुलिस दूसरे पक्ष को उकसाती है और मामले को तूल दिलवाकर दोनों पक्षों के खिलाफ शांति भंग करने और शांति भंग होने की आशंका में कार्रवाई करती है| इस पूरे खेल में न सिर्फ आरोपी पक्ष को बड़ी कार्रवाई बचने का फायदा मिल जाता है बल्कि पुलिस के रिकार्ड में अपराध ग्राफ कम होता है| 

       ताजा मामला सामने आया है साधुआश्रम पुलिस चौकी अधीन सफ़ेदपुरा गांव से|  गांव में एक किसान के खेत में दबंगो ने अपने खेत का पानी निकाल दिया जिससे किसान की फसल पानी में डूबकर ख़राब हो रही है| पीड़ित किसान ने दबंगो से पानी को अपने खेत में छोड़ने पर विरोध जताया तो मारपीट कर धमकी दे डाली| जिसकी शिकायत रविवार सुबह पुलिस कट्रोम रूम 112 पर की गयी| मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़ित किसान को थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराने की सलाह देकर इतिश्री कर ली| ११२ नम्बर की पुलिस टीम की सलाह पर पीड़ित किसान हरदुआगंज पुलिस को लिखित शिकायत लेकर पंहुचा| शिकायत पर जाँच करने पुलिस ने आरोपियों को ऐसी घुट्टी पिलाई कि पुलिस को जाते ही आरोपियों ने शिकायतकर्ता के घर पर धावा बोल दिया| घर की महिलाओं को दबंगो ने  बेरहमी से पीट दिया, और बुरी नीयत से छेड़छाड़ कर दी| मारपीट में घायल महिलाये अपनी शिकायत लेकर हरदुआगंज पुलिस के पास गयी तो पुलिस ने उन्हें घंटो थाने में बिठाये रखा और मारपीट और छेड़छाड़ करने के आरोपी को थाने में मेहमान की तरह घुमाया| कुछ देर बाद पुलिस ने पीड़िता के ही परिजनों को शांतिभांग की धाराओं में कार्रवाई  कर दी| 

पीड़ित महिलाओं द्वारा थाना पुलिस को दी शिकायत में लिखे आरोप 

सेवामें

श्रीमान थानाध्यक्ष महोदय

थाना हरदुआगंज, अलीगढ़


महोदय

निवेदन है कि प्रार्थिया xxxxx पत्नी x उर्फ xx गांव सफेदपुरा की रहने वाली हूं। मेरे खेत के पड़ोस में नगेंद्र उर्फ नगीना पुत्र प्रेमपाल अ मेघ सिंह, आदि के खेत है। मेरे खेत में धान की फसल खड़ी है जिसमें पानी भरा है। नगीना, मेघ सिंह आदि चुपचाप पुलिया खोलकर मेरी फसल को नष्ट करने के इरादे से अपने खेतों को पानी मेरे खेत में खोलते आ रहे है। दिनांक 16.10.2022 को मेरे पति मजदूरी करने चले गए थे, मैंने खेत पर जाकर देखा तो नगीना के खेत के तरफ की पुलिया मेरे खेत की ओर खुली हुई थी। मैंने घर आकर ये बात अपने जेठ xxxकुमार को बताई, xxx इस बात की शिकायत करने थाने आ गए। में अपने घर पहुची तो थाने शिकायत करने की पता पता चलने पर दबंग नगीना मुझे देखकर मां बहन की असहनीय गंदी गालियां देकर देने लगा। मैंने विरोध किया तो नगीना उसकी उसकी पत्नी रजनी व सचिन पुत्र मेघसिंह मेरे घर में घुस आए और मेरा पैर पकड़कर सीड़ियों से खींचकर रोड ले आए, और बाल पकड़कर मारपीट करने लगे। पिटाई के दौरान मेरे कपड़े फटकर अस्तव्यस्त होकर में अर्द्धनग्न हो गई तथा कानो में पहने सोने के कुंडल मारपीट दौरान गुम हो गए। चीखपुकार सुनकर मेरी जेठानी xxx पत्नी xxxकुमार बचाने दौड़ी तो उसे भी पकड़कर पीटा गया। थाने जाने पर जान से मारने की धमकी देकर आरोपी चले गए, हम थाने के लिए पैदल चले तो नगीना ने रास्ते में रोककर मारपीट का प्रयास किया। तभी मेरे पति के आ जाने पर वह धमकी देता हुआ थाने चला गया। मारपीट से मेरे हाथ व सिर में गुम चोट आई है। महोदय से निवेदन है कि मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की कृपा करें।

प्रार्थी xxपत्नी xxxसिंह निवासी सफेदपुरा थाना हरदुआगंज, अलीगढ़

0-xxxxxx2350

16-10-2022

शिकायत जिसे पीड़ित किसान थाने में  गया देने गया था और जाँच करने गयी पुलिस के जाने के बाद घटना को अंजाम दिया गया 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.