"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

जिलाधिकारी ने एसडीएम ऋषभ सिंह से अटल आवासीय विद्यालय का रात्रि एवं दिन में कराया औचक निरीक्षण



*एसडीएम गभाना ने अटल आवासीय विद्यालय का किया औचक निरीक्षण*

*प्रोजेक्ट मैनेजर मौके पर नहीं पाए गए*

*एसडीएम को निरीक्षण के दौरान लगभग 220 श्रमिक कार्य करते मिले*

*विकास एवं निर्माण कार्य मानक, समयबद्धता, गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण किए जाएं* *: डीएम*

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़6नवम्बरसूवि)। जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह द्वारा दिये गये निर्देशों के क्रम में एसडीएम गभाना ऋषभ सिंह द्वारा ग्राम टमकौली में निर्माणधीन अटल आवासीय विद्यालय का रात्रि 9 बजे निरीक्षण किया गया। डीएम ने कहा है कि विकास एवं निर्माण कार्य मानक, समयबद्धता, गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण किए जाएं। जनहित के कार्यों में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। 

       उपजिलाधिकारी गभाना ऋषभ सिंह ने मौके पर पाया कि प्रोजेक्ट मैनेजर आदित्य त्यागी साइट पर मौजूद नहीं मिले। साइट पर एकाउंटेट सत्यप्रकाश मौजूद मिले, जिनके द्वारा बताया गया कि प्रोजेक्ट मैनेजर शाम 5 बजे अपने घर (हापुड़) के लिए रवाना हुये हैं। आम तौर पर श्री त्यागी 24 घंटे यही रहते हैं। सत्यप्रकाश से वर्तमान में कार्यरत श्रमिकों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि लेबर दिन में सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक ही काम करती है और लगभग आधा घंटा पहले ही काम खत्म करके गयी है। अकाउंटेंट सत्यप्रकाश द्वारा बताया गया कि विद्यालय के मुख्य भवन के कमरों की छत व दीवारों पर प्लास्टर का काम भी चल रहा है। भ्रमण करने पर कई दीवारों पर प्लास्टर ताजा पाया गया। सीनियर बॉयज हॉस्टल पर छत पड़ रही है। जूनियर बॉयज हॉस्टल छत पर कास्टिंग का काम पूरा हो गया है और निरीक्षण से पहले ही कमरों की खिड़की एवं चौखट खड़ी की गयी है। 

       सीनियर गर्ल्स हॉस्टल निर्माण कार्य प्रगति पर है। लेवर के द्वारा सरिया बांधने का कार्य किया जा रहा है। भ्रमण करने पर छत पर लगे कई पिलर में सरिया बंधी पायी गयी। जूनियर गर्ल्स हॉस्टल साइट पर ब्रिक वर्क चल रहा है। भ्रमण करने पर दीवारों पर ताजा मसाला पाया गया, इससे स्पष्ट हो रहा है कि यह ब्रिक वर्क हाल ही का है। रेजीडेंसल ब्लॉक में कुछ सप्ताह पूर्व रुक रूक कर हुई बारिश के कारण भारी मात्रा में पानी भर गया था, जिसके कारण अभी तक कोई कार्य शुरू नही हो सका है। जेसीबी के माध्यम से गीली मिट्टी निकाली जा रही है। भ्रमण करने पर पाया गया कि कहीं सूखा है, तो कहीं पैर गीली मिट्टी में धस रहे हैं।

     उपजिलाधिकारी ऋषभ सिंह द्वारा अगले दिन दोपहर 2 बजे भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान प्रोजेक्ट मैनेजर आदित्य त्यागी अब भी साइट से गैर मौजूद पाये गये। अकाउंटेंट सत्यप्रकाश द्वारा बताया गया कि वह कल शाम पांच बजे से अभी तक अपने घर (हापुड़) से वापस नहीं लौटे। इसके अलावा मौके पर MPPL के मुख्य इजीनियर राहुल चौहान मिले और स्काई लाइन के इंजीनियर इंचार्ज सुनील कुमार मौके पर मिले, जिनसे कार्य प्रगति के बारे में पता किया गया। इनका कहना है कि दिवाली के पूर्व 350 से ज्यादा लेबर लगी हुयी थी जबकि दिवाली के बाद लेबर घटकर 150 हो गयी। इसके बाद लेबर बढ़ायी गयी और वर्तमान में 244 लोग मौके पर काम कर रहे हैं।

         मुख्य स्कूल बिल्डिंग पर कमरों और कोरिडोर में प्लास्तर का काम चल रहा है। मौके पर 100 से ज्यादा लेबर कार्य कर रहे हैं। सीनियर बॉयज हॉस्टल में डबल ऐसी ब्लॉक्स और ब्रिक वर्क होता पाया गया। मौके पर लगभग 30 श्रमिक काम करते पाये गये। जूनियर बॉयज हॉस्टल में सैटरिंग, सरिया बांधने का काम हो रहा था। मौके पर लगभग 20 लोग काम करते पाये गये। सीनियर गर्ल्स हॉस्टल में सैटरिंग और बिजली के कनैक्शन का काम हो रहा था। मौके पर लगभग 30 लोग काम करते पाये गये। जूनियर गर्ल्स हॉस्टल में फिनिसिंग का काम चल रहा है। मौके पर लगभग 10 लोग काम करते हुये पाये गये। प्रधानाचार्य आवास के अलावा और कहीं कोई श्रमिक काम करते नही पाए गये । प्रधानाचार्य आवास में पिलन्थ प्रोटेक्शन का काम चल रहा है। मौके पर लगभग 20 लोग काम करते पाये गये। इस प्रकार  सुनील कुमार द्वारा बताया गया कि 244 लोग काम कर रहे हैं, उनके द्वारा उपलब्ध कराये गये डेली मैन पॉवर रिपोर्ट में कुल लेबर की संख्या 214 और मौके पर भ्रमण करके  काम करने वाले लोगों की संख्या लगभग 210-220 पायी गयी। एसडीएम ऋषभ सिंह ने निरीक्षण के दौरान अधिकाधिक श्रमिक लगाकर कार्य मे तेजी लाने के निर्देश दिए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.