"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

इको टूरिज्म फेस्टिवल शेखा झील पर मनाया गया, संभावनाओं पर चर्चा की गई| AligarhMedia

 


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ| इको टूरिज्म फेस्टिवल शेखा झील पर मनाया गया। इस अवसर पर दिल्ली पब्लिक स्कूल के बच्चों द्वारा छात्र-छात्राओं द्वारा शेखा झील का भ्रमण किया गया एवं शेखा झील में ईको टूरिज्म एवं इनसे संबंधित संभावनाओं पर चर्चा की गई। दिल्ली पब्लिक स्कूल के अध्यापक श्री आसिफ कमाल एवं श्री नवीन चंद ने इस अवसर पर छात्र-छात्राओं को इको टूरिज्म की आवश्यकता एवं महत्व के लिए से अवगत कराया।


 ईकोटूरिज्म में शेखा झील को एक जनपद एक टूरिस्ट स्थल के रूप में राज्य सरकार द्वारा नामांकित किया गया है। कार्यक्रम में वरिष्ठ पर्यावरणविद् श्री सुबोध नंदन शर्मा द्वारा छात्र छात्राओं से यह अपील की गई कि वह इको टूरिज्म के लिएअपने क्षेत्र में विशेष करके ध्यान दें और फरवरी माह में होने वाली पक्षियों की गणना हेतु एक बार पुनः शेखा झील पर भ्रमण करें। प्रभागीय वन अधिकारी श्री दिवाकर कुमार वशिष्ठ ने शेखा झील को इको टूरिज्म के रूप में डिवेलप करने के लिए शेखा झील के समीप के ग्रामों में होमस्टे की संभावनाओं पर विचार करने हेतु आमंत्रितअतिथियों से कहा। शेखा झील में उत्पन्न होने वाली जलकुंभी से कंपोस्ट खाद बनाने हेतु क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीण वासियों से यह अपील की गई कि वह जलकुंभी को निकाल कर इस से खाद बनाएं तथा उस खाद को विक्रय करने में वन विभाग एवं अन्य राज्य विभाग अपना सक्रिय योगदान देंगे।


श्री संतोष सिंह लोकभारती ने इस अवसर पर इको टूरिज्म के रूप में शेखा झील के समीप स्थित भवन खेड़ा, शेखा ,एदलपुर ग्रामों में विलेज होमस्टे की स्थापना करने हेतु  सुझाव दिये । उनके द्वारा यह भी कहा गया कि एक सप्ताह में इसकी रूपरेखा तैयार कर प्रस्तुत की जाएगी। इसके अतिरिक्त शेखा झील में उत्पन्न होने वाली जलकुंभी से खाद बनाने एम कंपोस्ट बनाने का भी प्रस्ताव उनके द्वारा दिया गया जिसकी एक योजना तैयार कर। प्रभागीय वन अधिकारी अलीगढ़ को प्रस्तुत की जाएगी। श्री ज्ञानेंद्र मिश्रा उड़ान सोसायटी द्वारा छात्र छात्राओं से कहा गया कि वह इस बात की विषय वस्तु पर ध्यान दें कि कैसे किसी पक्षी विहार को राष्ट्रीय स्तर का पक्षी विहार एवं रामसर साइट घोषित किया जा सकता है।


 


छात्र छात्राओं से यह अपेक्षा की गई कि वह शेखा झील के प्रबंधन के संबंध में अपने विचार। एक प्रपोजल के रूप में वन विभाग को प्रस्तुत करें ताकि आगामी वर्षों में इस स्टडी को एवं  विचारों को प्रबंध योजना में सम्मिलित किया जा सके। कार्यक्रम में समीप के ग्रामीणों में पूर्व प्रधान श्री प्रदीप कुमार एवं श्री रणवीर सिंह ने अन्य स्थानीय ग्रामीणों के साथ इस कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।

कार्यक्रम में श्री अब्दुल समी अंसारी क्षेत्रीय वन अधिकारी अलीगढ़, श्री पूरन सिंह, डिप्टी रेंजर!, कुमारी चंचल ,श्री दीपक ,श्री संगम, श्री पुत्तन श्रीमति श्वेता सिंह, श्रीमति राजेन्द्री देवी आदि ने वन विभाग की और से प्रतिभाग किया।


 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.