जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

अभिलेखों के उचित रखरखाव सहित तहसील आए प्रत्येक व्यक्ति की बात को गंभीरता से सुन निराकरण करने के दिये निर्देश

0

 


*मा0 अध्यक्ष राजस्व परिषद ने तहसील गभाना का किया निरीक्षण*


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ़ 05 जून 2023 (सू0वि0)। मा0 अध्यक्ष राजस्व परिषद श्री संजीव मित्तल द्वारा तहसील गभाना का निरीक्षण किया गया। उन्होंने अभिलेखों के उचित रखरखाव सहित तहसील आए प्रत्येक व्यक्ति की बात को गंभीरता से सुन निराकरण करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त मामलों का गुण-दोष के आधार पर उभय पक्षों को सुन, यदि आवश्यक हो तो मौके पर जाकर गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि विभिन्न न्यायालयों में चल रहे मुकदमों का प्राथमिकता से निराकरण कराते हुए जरूरतमंदों को न्याय उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने राजस्व अभिलेखों का रखरखाव ठीक से रखने के साथ ही राजस्व वसूली बढ़ाने के भी निर्देश दिये। एसडीएम ने बताया कि बिजली, बैंक एवं स्टाम्प मद में वसूली की जा रही है। 

उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश पर जिस प्रकार से जनता दर्शन कर नियमित रूप से जनसुनवाई कर समस्याओं का निराकरण कराया जा रहा है, ठीक उसी प्रकार से न्यायालयों में लम्बित राजस्व वादों को प्राथमिकता से निर्णीत किया जाए। तहसील परिसर में व्यापक साफ-सफाई के साथ ही अपनी समस्याओं के समाधान के लिए आऐ व्यक्तियों के लिए पेयजल समेत अन्य बुनियादी सुविधाओं की उचित व्यवस्था की जाए। इस दौरान उन्होंने सार्वजनिक भूमि के उपयोग सम्बन्धी पुरानी लम्बित तीन पत्रावलियों का परीक्षण कर उचित मार्गदर्शन देते हुए निस्तारण के निर्देश दिये। रियल टाइम खतौनी पटल पर कार्य कर रहे लेखपाल एवं कम्प्यूटर ऑपरेटर से सवाल-जवाब किये, उनको नियमों की जानकारी पाई गयी। मा0 अध्यक्ष ने रिकॉर्ड रूम देखा, बस्ते निर्धारित रंग के कपड़े में व्यवस्थित पाए गये। चकबन्दी के बारे में जानकारी प्राप्त करने पर जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में 13 ग्रामों में चकबन्दी की प्रक्रिया चल रही है जिसमें तहसील गभाना के 02 ग्राम आच्छा दित हैं। 

एसडीएम के0बी0 सिंह ने तहसील की महत्वपूर्ण उपलब्धियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आईजीआरएस से प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में तहसील गभाना को माह फरवरी व अप्रैल में प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। अतिक्रमण मुक्त अभियान में 152 हेक्टेयर भूमि कब्जामुक्त कराकर भूमि प्रबन्धक समिति का कब्जा कराया गया। रियल टाइम खतौनी में अब तक 31 प्रतिशत कार्य कराया गया है। एसडीएम ने अविवादित वरासत के तहत 159 ग्रामों के 7429 कृषकों के उत्तराधिकार के मामलों का निस्तारण कराया गया। मा0 अध्यक्ष राजस्व परिषद ने एसडीएम कोर्ट रूम, न्यायालय तहसीलदार समेत सम्पूर्ण तहसील परिसर का भ्रमण किया। इस दौरान तहसील परिसर में साफ-सफाई व्यवस्था चाक-चौबन्द पाई गयी। मा0 अध्यक्ष ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए जनसामान्य से वार्ता कर व्यवस्थाओं की जानकारी लेते हुए समस्या निस्तारण के निर्देश दिये। 

निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा, जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह, एडीम प्रशासन पंकज कुमार, उप भूमि व्यवस्था आयुक्त भीष्म लाल वर्मा, ओएसडी सुनील कुमार झा एवं वरिष्ठ निदेशक आई0टी0 नेशनल इंफोर्मेटिक सेंटर राजेश त्रिपाठी, एसडीएम गभाना के0बी0 सिंह, एसडीएम न्यायिक हीरालाल सैनी, एसडीएम खैर मृणाली जोशी, तहसीलदार उदयवीर सिंह, संदीप चौधरी, अजेन्द्र सिंह तौमर समेत अन्य तहसील कार्मिक उपस्थित रहे। 

---------

    

*मा0 अध्यक्ष राजस्व परिषद ने तहसील गभाना का किया निरीक्षण*

*अभिलेखों के उचित रखरखाव सहित तहसील आए प्रत्येक व्यक्ति की बात को गंभीरता से सुन निराकरण करने के दिये निर्देश*


अलीगढ़ 05 जून 2023 (सू0वि0) मा0 अध्यक्ष राजस्व परिषद श्री संजीव मित्तल द्वारा तहसील गभाना का निरीक्षण किया गया। उन्होंने अभिलेखों के उचित रखरखाव सहित तहसील आए प्रत्येक व्यक्ति की बात को गंभीरता से सुन निराकरण करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त मामलों का गुण-दोष के आधार पर उभय पक्षों को सुन, यदि आवश्यक हो तो मौके पर जाकर गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि विभिन्न न्यायालयों में चल रहे मुकदमों का प्राथमिकता से निराकरण कराते हुए जरूरतमंदों को न्याय उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने राजस्व अभिलेखों का रखरखाव ठीक से रखने के साथ ही राजस्व वसूली बढ़ाने के भी निर्देश दिये। एसडीएम ने बताया कि बिजली, बैंक एवं स्टाम्प मद में वसूली की जा रही है। 

उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश पर जिस प्रकार से जनता दर्शन कर नियमित रूप से जनसुनवाई कर समस्याओं का निराकरण कराया जा रहा है, ठीक उसी प्रकार से न्यायालयों में लम्बित राजस्व वादों को प्राथमिकता से निर्णीत किया जाए। तहसील परिसर में व्यापक साफ-सफाई के साथ ही अपनी समस्याओं के समाधान के लिए आऐ व्यक्तियों के लिए पेयजल समेत अन्य बुनियादी सुविधाओं की उचित व्यवस्था की जाए। इस दौरान उन्होंने सार्वजनिक भूमि के उपयोग सम्बन्धी पुरानी लम्बित तीन पत्रावलियों का परीक्षण कर उचित मार्गदर्शन देते हुए निस्तारण के निर्देश दिये। रियल टाइम खतौनी पटल पर कार्य कर रहे लेखपाल एवं कम्प्यूटर ऑपरेटर से सवाल-जवाब किये, उनको नियमों की जानकारी पाई गयी। मा0 अध्यक्ष ने रिकॉर्ड रूम देखा, बस्ते निर्धारित रंग के कपड़े में व्यवस्थित पाए गये। चकबन्दी के बारे में जानकारी प्राप्त करने पर जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में 13 ग्रामों में चकबन्दी की प्रक्रिया चल रही है जिसमें तहसील गभाना के 02 ग्राम आच्छा दित हैं। 

एसडीएम के0बी0 सिंह ने तहसील की महत्वपूर्ण उपलब्धियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आईजीआरएस से प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में तहसील गभाना को माह फरवरी व अप्रैल में प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। अतिक्रमण मुक्त अभियान में 152 हेक्टेयर भूमि कब्जामुक्त कराकर भूमि प्रबन्धक समिति का कब्जा कराया गया। रियल टाइम खतौनी में अब तक 31 प्रतिशत कार्य कराया गया है। एसडीएम ने अविवादित वरासत के तहत 159 ग्रामों के 7429 कृषकों के उत्तराधिकार के मामलों का निस्तारण कराया गया। मा0 अध्यक्ष राजस्व परिषद ने एसडीएम कोर्ट रूम, न्यायालय तहसीलदार समेत सम्पूर्ण तहसील परिसर का भ्रमण किया। इस दौरान तहसील परिसर में साफ-सफाई व्यवस्था चाक-चौबन्द पाई गयी। मा0 अध्यक्ष ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए जनसामान्य से वार्ता कर व्यवस्थाओं की जानकारी लेते हुए समस्या निस्तारण के निर्देश दिये। 

निरीक्षण के दौरान मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा, जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह, एडीम प्रशासन पंकज कुमार, उप भूमि व्यवस्था आयुक्त भीष्म लाल वर्मा, ओएसडी सुनील कुमार झा एवं वरिष्ठ निदेशक आई0टी0 नेशनल इंफोर्मेटिक सेंटर राजेश त्रिपाठी, एसडीएम गभाना के0बी0 सिंह, एसडीएम न्यायिक हीरालाल सैनी, एसडीएम खैर मृणाली जोशी, तहसीलदार उदयवीर सिंह, संदीप चौधरी, अजेन्द्र सिंह तौमर समेत अन्य तहसील कार्मिक उपस्थित रहे। 

--

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)