जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

‘महिला सशक्तिकरण’ पर एएमयू के वाणिज्य विभाग में प्रो. बनर्जी का विस्तार व्याख्यान

0

अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ| अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के वाणिज्य विभाग के तत्वधान में भारत की जी20 अध्यक्षता के अवलोकन में ‘महिला सशक्तिकरण’ विषय पर एक विस्तार व्याख्यान का आयोजन किया गया। कलकत्ता विश्वविद्यालय के बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग की पूर्व अध्यक्ष, प्रोफेसर शर्मिष्ठा बनर्जी ने विस्तार व्याख्यान देते हुए समाज में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सभी लोगों से महिलाओं के अधिकारों को सुनिश्चित बनाने का आग्रह किया।


प्रोफेसर बनर्जी ने महिला सशक्तिकरण पर अपने शोध के निष्कर्षों के बारे में विस्तार से बताया और उनके द्वारा दर्ज परिणामों पर चर्चा की। उन्होंने महिलाओं के अधिकारों की आसान समझ के विपरीत महिला सशक्तिकरण की सांस्कृतिक समझ को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर बल दिया।


इससे पूर्व, अतिथि वक्ता का स्वागत करते हुए, वाणिज्य विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर एस. एम. इमामुल हक ने जीवन के हर क्षेत्र में महिला सशक्तिकरण की आवश्यकता पर प्रकाश डाला।


धन्यवाद ज्ञापन देते हुए प्रोफेसर नवाब अली खान ने छात्रों से उन प्रथाओं को अपनाने का आग्रह किया जो उनके परिवारों और कार्यस्थल पर महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देती हैं। कार्यक्रम का समापन 100 से अधिक छात्रों, शोधार्थियों और शिक्षकों के लिए एक इंटरैक्टिव सत्र के साथ हुआ।


जेएन मेडिकल कालिज के डॉ मनाजिर अतहर यूरोपीय डिपलोमा से सम्मानित

अलीगढ़ 22 जूनः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जेएन मेडिकल कॉलेज के एनेस्थिसियोलॉजी और क्रिटिकल केयर विभाग में सहायक प्रोफेसर डॉ मनाजिर अतहर को ग्लासगो, स्कॉटलैंड में आयोजित यूरोएनेस्थीसिया-2023 सम्मेलन के दौरान एनेस्थिसियोलॉजी और गहन देखभाल (ईडीएआईसी) में यूरोपीय डिप्लोमा से सम्मानित किया गया है।


यूरोपियन सोसाइटी ऑफ एनेस्थिसियोलॉजी एंड इंटेंसिव केयर (ईएसएआईसी) द्वारा मान्यता प्राप्त प्रतिष्ठित डिप्लोमा डॉ मनाजिर को एनेस्थिसियोलॉजी के क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट समर्पण और विशेषज्ञता के लिए दिया गया है।


डॉ. मनाजिर ने मास्टेक्टॉमी में सेग्मेंटल स्पाइनल एनेस्थीसिया की भूमिका पर अपना शोध पत्र भी प्रस्तुत किया। उनका अध्ययन इस तकनीक के संभावित लाभों पर प्रकाश डालता है, जिससे रोगी के परिणामों और रिकवरी में काफी सुधार हो सकता है। मेडिसिन संकाय की डीन प्रो. वीणा माहेश्वरी और विभागाध्यक्ष प्रो. काजी एहसान अली ने डॉ. मनाजिर को उनकी उपलब्धि पर बधाई दी।



फेलोशिप की घोषणा

अलीगढ़ 22 जूनः भारत सरकार ने देश के विभिन्न उच्च शिक्षण संस्थानों में शोध की गुणवत्ता में सुधार के लिए प्रधान मंत्री रिसर्च फेलोशिप (पीएमआरएफ) योजना शुरू की है। इस पहल का उद्देश्य अनुसंधान में सर्वोत्तम प्रतिभा को आकर्षित करना है, जिससे नवाचार के माध्यम से विकास के ध्येय को साकार किया जा सके।


पीएमआरएफ योजना के तहत जून 2023 (चक्र 11) के लिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी के विषयों में पात्र उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। योजना में प्रति माह 70,000/- रुपये की फेलोशिप और 2 लाख रुपये का वार्षिक अनुसंधान अनुदान शामिल है।



--------------------


एएमयू के 8 छात्र एलजी इंडिया में इंटर्नशिप के लिए चयनित

अलीगढ़ 22 जूनः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के वाणिज्य और प्रबंधन अध्ययन संकाय और व्यावसायिक पाठ्यक्रम केंद्र के आठ छात्रों को प्रशिक्षण और प्लेसमेंट कार्यालय (सामान्य) द्वारा आयोजित कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव के माध्यम से एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया द्वारा इंटर्नशिप कार्यक्रम के लिए चयनित किया गया है।


टीपीओ श्री साद हमीद ने बताया कि चयनित छात्रों में मोहम्मद फैज (एमबीए एफएम), बासित खालिद (एमबीए एफएम), अक्षिता वाष्र्णेय (एमबीए एफएम), अब्दुल रज्जाक (एम.कॉम), जुबैर अतहर (एमबीए) मोहम्मद यासिर रईस (एमबीए), मृणाल (पीजीडीबीएम), और प्राची वर्मा (पीजीडीबीएम) शामिल हैं। सहायक टीपीओ डा. सुहालिया परवीन ने कहा कि चयनित छात्र इंटर्नशिप के दौरान तकनीक से परिचित होंगे।


-----------------------------------

बैडमिंटन, वालीबाल और टेबिल टेनिस समर कोचिंग कैम्प का समापन

अलीगढ़ 22 जूनः अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में आजादी के अमृत महोत्सव ओर जी-20 के तहत चल रहे कार्यक्रम की श्रृखला में आयोजित बैडमिंटन, वालीबाल और टेबिल टेनिस समर कोचिंग कैम्प के समापन पर मुख्य अतिथि एडीएम (ई) पंकज कुमार, गैम्स कमेटी के सेक्रेट्री प्रोफेसर एस अमजद अली रिज़्वी और जिम खाना क्लब के अध्यक्ष डा. जमील अहमद द्वारा समर कैम्प में भाग लेने वाले स्कूली छात्रों को सर्टीफिकेट वितरित किये गये।


इस अवसर पर एडीएम (ई) पंकज कुमार ने कहा कि यह गौरव का विषय है कि एएमयू विभिन्न खेलों के समर कैम्प आयोजित कर उन्हें निशुल्क प्रशिक्षण उपलब्ध करा रहा है। उन्होंने कहा कि अभिभावकों को बच्चों की छुट्टियों का सही सदुपयोग करने के लिये इन शिविरों के लिये प्रोत्साहित करना चाहिये। उन्होंने कहा कि स्कूली छात्र पढ़ाई के साथ किसी भी एक खेल के प्रति समर्पित होकर अपना नाम रोशन करें।


जिमखाना क्लब के अध्यक्ष डा. जमील अहमद ने कहा कि इस समर कोचिंग कैम्प में बैडमिंटन वालीबाल और टेबिल टेनिस की तकनीक से स्कूली छात्रों को अवगत कराया गया और बच्चों ने जमकर इस शिविर का आनंद लिया।

बैडमिंटन कोच खुसरो मारूफ ने उपस्थितजनों का आभार जताया। कार्यक्रम के दौरान असिस्टेंट डायरेक्टर अरशद महमूद, मोहम्मद हामिद, विकास कुमार, नवेद अहमद, सरदार हुसैन और अफशां उबैद भी मौजूद रहे। इस शिविर में 200 से अधिक स्कूली बच्चों ने प्रतिभाग किया।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)