जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

श्याम सरन 15 जुलाई को जी-20 सर सैयद मेमोरियल व्याख्यान देंगे, JNMC में पेसमेकर कैंप का आयोजन

0


अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ़, 8 जुलाईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के के जेएन मेडिकल कॉलेज के कार्डियोलॉजी विभाग ने 5 जुलाई को ओपीडी नम्बर 14 परिसर में पेसमेकर शिविर का सफलतापूर्वक आयोजन किया। शिविर का उद्देश्य पेसमेकर या एआईसीडी और सीआरटीडी जैसे प्रत्यारोपित उपकरणों वाले रोगियों की सहायता करना था। आयोजन के दौरान मरीजों की गहन जांच की गई और उनकी स्थिति के आधार पर उचित सलाह प्रदान की गई। कुछ व्यक्तियों के पैरामीटर रीसेट किए गये तथा कुछ मरीजों को बैटरी बदलने की सलाह दी गई।


कार्डियोलॉजी विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर आसिफ हसन ने बताया कि इस तरह के शिविर हर छह महीने पर आयोजित किए जाते हैं जिससे खासकर अलीगढ़ जिले में रहने वाले मरीज बड़ी संख्या में लाभ उठाते हैं, भले ही उनके उपकरण जेएन मेडिकल कॉलेज या किसी अन्य चिकित्सा सुविधा में प्रत्यारोपित किए गए हों। .

प्रोफेसर मलिक अजहरुद्दीन और डीएम रेजीडेंट की सक्रिय भागीदारी से शिविर का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया।


-----------------------

श्याम सरन 15 जुलाई को जी-20 सर सैयद मेमोरियल व्याख्यान देंगे

अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ़, 8 जुलाईः भारत के पूर्व विदेश सचिव श्री श्याम सरन शनिवार, 15 जुलाई, 2023 को सुबह 10.45 बजे अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के जेएन मेडिकाल कालिज ऑडिटोरियम में प्रतिष्ठित वार्षिक जी-20 सर सैयद मेमोरियल लेक्चर-2023 में ‘भारत की विदेश नीति का पुनरावलोकन’ विषय पर व्याख्यान देंगे।


पूर्व में प्रख्यात भारतीय अर्थशास्त्री और प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के अध्यक्ष डॉ. बिबेक देबरॉय,  सेवानिवृत्त आईएफएस और संयुक्त राष्ट्र में भारत के पूर्व स्थायी प्रतिनिधि श्री सैयद अकबरुद्दीन, श्री एन.एन. वोहरा, डॉ. रामचन्द्र गुहा, एम.जे. अकबर, शम्सुर रहमान फारूकी, श्री श्याम बेनेगल, श्री सैयद हामिद, डॉ. आबिद हुसैन, कुलदीप नैय्यर, डॉ. तारा चंद, डॉ. रफीक जकारिया, डॉ. बी.एन. पांडे और प्रोफेसर गॉर्डन कैंपबेल सहित अन्य प्रख्यात लोग सर सैयद मेमोरियल व्याख्यान दे चुके हैं।


श्री श्याम सरन, 1970 में भारतीय विदेश सेवा में शामिल हुए और भारत सरकार के विदेश सचिव बने। इससे पहले, उन्होंने म्यांमार, इंडोनेशिया और नेपाल में भारत के राजदूत और मॉरीशस में उच्चायुक्त के रूप में कार्य किया। 2011 में सिविल सेवाओं में उनके योगदान को देखते हुए उन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया गया।

सर सैयद अकादमी के निदेशक प्रोफेसर अली मोहम्मद नकवी और उप निदेशक डॉ. मोहम्मद शाहिद ने बताया कि एएमयू के कुलपति प्रो. मोहम्मद गुलरेज व्याख्यान की अध्यक्षता करेंगे।


 

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)