जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

बेसिक शिक्षा मंत्री रक्षाबंधन पर्व पर कस्तूरबा गांधी विद्यालय पहुंचे, इस अंदाज में मनाया रक्षाबंधन

0



*घुडिया बाग कस्तूरबा गांधी पहुंच मंत्री जी ने छात्राओं से राखी बंधवाई*

*मंत्री जी ने बालिकाओं को उपहार भी दिए*

*आर ओ वाटर एवं व्हाइट बोर्ड का फीता काटकर विद्यालय को सौंपा*

*कस्तूरबा गांधी विद्यालय की छात्राओं के साथ बैठकर खाना भी खाया*

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़31अगस्त (सूवि) . उत्तर प्रदेश के मा0 बेसिक शिक्षा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री संदीप सिंह जी ने रक्षाबंधन पर्व के शुभ अवसर पर नगर क्षेत्र के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय घुडिया बाग पहुंच छात्राओं से रक्षा सूत्र बंधवाया। इस अवसर पर मंत्री जी ने छात्राओं को मिठाई, चॉकलेट एवं स्कूल बैग समेत बच्चों को लुभाने वाले अन्य उपहार भी प्रदान किए। छात्राओं ने मंत्री जी के स्वागत सम्मान में मनमोहक रंगोली बनाई, राखी बांधने के साथ तिलक लगा पुष्प भेंट कर स्वागत किया। इस दौरान मंत्री जी ने व्हाइट बोर्ड एवं शुद्ध पेयजल के लिए आरओ वॉटर का फीता काटकर लोकार्पण करते हुए विद्यालय को भेंट किया। उन्होंने छात्राओं के साथ बैठकर खाना खाया और फोटो भी खिंचवाई।

     उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के प्रयास किए जा रहे हैं। राखी बंधवाने के उपरांत मंत्री जी ने बच्चों के विषय ज्ञान के संबंध में विभिन्न प्रकार से प्रश्नोत्तरी भी की। मंत्री जी ने कहा कि जब एक बालिका पढ़ती है, आगे बढ़ती है, तो परिवार ही नहीं बल्कि पूरे समाज का विकास होता है। आज लड़कियां लड़कों से कहीं आगे जाकर हर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रहीं हैं। 

     उन्होंने कहा कि प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी शिक्षा को ऊँचाइयाँ प्रदान करने के लिए समय-समय पर समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश देते हैं। कस्तूरबा गांधी विद्यालय में निःशुल्क रहन-सहन के साथ खान-पान और गुणवत्तापूर्ण निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जा रही है। प्राथमिक विद्यालयों में पाठ्य पुस्तकों के साथ पठन-पाठन की सामग्री और स्कूल बैग, यूनिफॉर्म, जूता-मोजा के लिए डीबीटी के माध्यम से प्रति छात्र 1200 रुपया अभिभावकों के बैंक खातों में भेजा जा रहा है। इस अवसर पर बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश कुमार, डबल एओ ज्ञानेंद्र कुमार, सुशील शर्मा सहित बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)