जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

मिलेट्स (श्री अन्न) रेसिपी विकास एवं उपभोक्ता जागरूकता कार्यक्रम का किया समापन

0


मा0 जिला पंचायत अध्यक्ष ने दो दिवसीय समापन कार्यक्रम में प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़| क्वार्सी कृषि फार्म परिसर में दो दिवसीय मिलेट्स (श्री अन्न) रेसिपी विकास एवं उपभोक्ता जागरूकता कार्यक्रम का समापन मा0 अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती विजय सिंह द्वारा किया गया। मिलेट्स मेले में खरीफ की फसलों में मिलेट्स (श्री अन्नों) की विभिन्न प्रकार की रेसिपी एवं गुणों के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी। 

मा0 अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती विजय सिंह ने मिलेट्स से बने रेसीपी के गुणों के बारे में अवगत कराया एवं मिलेट्स रेसीपी विकास एवं उपभोक्ता जागरूकता कार्यक्रम में लगे 03 एफपीओ, एक जैविक खेती करने वाले कृषक, एक सवयं सहायता समूह, दो मिलेट्स से बने उत्पाद बनाने वाली फर्मों, 08 समेकित बाल विकास परियोजना, आंगनवाडी केन्द्र, खाद्य सुरक्षा एवं औषधी प्रशासन एवं गुप्ता कैटर्स के प्रतिनिधि को प्रशस्ति पत्र एवं शील्ड देकर सम्मानित किया गया। 

डा0 नेत्रपाल मलिक केवीके छेरत ने अन्तर्राष्ट्रीय मिलेट्स वर्ष 2023 में सम्मिलित 8 फसलों के बारे में विस्तृत जानकारी से अवगत कराया। महिला कृषकों ने मिलेट्स से रेसीपी बनाने के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन बलवीर सिंह वरिष्ठ निरीक्षक राजकीय खाद्य विज्ञान प्रसंस्करण केन्द्र आगरा द्वारा किया गया। आरपी पचौरी निदेशक कोमलिका एफपीओ, बबलू शर्मा निदेशक शक्ति एफपीओ द्वारा मिलेट्स के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी। यशराज सिंह उप कृषि निदेशक द्वारा कार्यक्रम में महिला कृषकों एवं अन्य को जागरूक करते हुये कहा कि उत्तर प्रदेश मिलेट्स पुनरोद्धार योजनान्तर्गत मिलेट्स रेसिपी के बारे में महिला कृषकों एवं अन्य को जानकारी दी गयी। इसके साथ ही सभी को धन्यवाद प्रदान करते हुये कार्यक्रम का समापन किया गया।  

कार्यक्रम में राकेश बाबू, संयुक्त कृषि निदेशक, सतीश मलिक उप कृषि निदेशक (कृषि रक्षा), डा0 अमित जायसवाल जिला कृषि अधिकारी, डा0 दिव्या मौर्या भूमि संरक्षण अधिकारी, संतोष कुमार प्रभाकर उप सम्भागीय कृषि अधिकारी कोल, श्रेयश कुमार डीपीओ, कृपा शंकर एफएसओ, एफएसडीए, नीलेन्द्र श्रीवास्तव प्राचार्य, सचिव एफसीआई, सर्वेश कुमार एवं 400 महिला कृषकों एवं एफपीओ द्वारा प्रतिभाग किया गया।

---

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)