जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

भारतीय किसान यूनियन सुनील की महत्वपूर्ण बैठक, रविवार को एडीए पर होगा विशाल प्रदर्शन

0

 


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ | सोमवार को जिला कार्यालय प्रेम राज मोटर्स पर भारतीय किसान यूनियन सुनील की महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया जिसमें किसानों की समस्याओं के लिए संघर्ष करने को लेकर रणनीति बनी। बैठक में मुख्य रूप से चिलकौरा अन्नापुरम कॉलोनी में अवैध कब्जा कर बनाए गए फ्लैटों पर अभी तक कोई कार्यवाही ना होने की वजह से कल 17 दिसम्बर 2023 रविवार को एडीए कार्यालय पर धरना प्रदर्शन और ज्ञापन देने का कार्यक्रम तय किया गया। जिलाध्यक्ष किशन सिंह लोधी ने बताया कि चिलकौरा पर प्रशासन ने बुलडोजर की कार्यवाही की वहां सरकारी जमीन निकली जिसको भूमाफियाओं ने घेर रखा था लेकिन कार्यवाही पूरी नहीं हुई। फ्लैटों पर कार्यवाही का आश्वासन दिया गया था। लेकिन कार्यवाही नहीं हुई, प्रशासन भूमाफियों को बचाना चाहता है ।

युवा जिलाध्यक्ष कौशल बघेल ने बताया कि प्रशासन ने सिर्फ दिखावे के लिए कार्यवाही की सरकारी जमीन को फ्लैटों के बीच में बता कर उसे सरकारी जमीन बता दिया फ्लैटों के एक तरफ शमशान की सरकारी जमीन बता दी फिर फ्लैट छोड़कर सरकारी जमीन बता दी ऐसा कैसे हो सकता है चिलकोरा के ग्रामीण इस कार्यवाही से सन्तुष्ट नहीं है। एसडीएम कोल एडीए का मामला बता रहे हैं इसलिए सभी किसान और भारतीय किसान यूनियन सुनील के पदाधिकारी कल 17 दिसम्बर को सुबह 11 बजे से एडीए कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर एडीए वीसी को ज्ञापन देंगें।

किसान नेता रंजीत चौधरी ने बताया कि 17 दिसम्बर रविवार को 10 बजे सभी किसान और भारतीय किसान यूनियन सुनील के पदाधिकारी जिला कार्यालय प्रेम राज मोटर्स पर इकठ्ठे होकर रामघाट रोड एडीए कार्यालय तक पैदल मार्च कर वीसी को ज्ञापन सौंपने जायेंगें। शासन प्रशाशन किसानों की समस्याओं को गम्भीरता से ले अन्यथा सड़क पर प्रदर्शन के लिए बाध्य होगें।

आज बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील चौधरी राष्ट्रीय महासचिव विनोद प्रियदर्शी धीरज सिंह काकू यादव विनोद चौधरी प्रदीप विवेक यादव मनोज शर्मा राहुल गौतम देवेंद्र राकेश धर्मेंद्र मनोज दिवाकर विजय सिंह भदोरिया रवि बघेल अर्जुन चौधरी राजेश रिंकू सैनी सामंत पाल सिंह ओमवीर सिंह आदि भारतीय किसान यूनियन सुनील के कार्यकर्त्ता और पीड़ित किसान मौजूद रहे।।



एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)