जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

Aligarh| जिले की सभी सात विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 27,59,211

0

 


मंगलवार 23 जनवरी को अंतिम मतदाता सूची का होगा प्रकाशन

जिले की सभी सात विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 27,59,211

18 से 19 वर्ष आयु के 24791 मतदाताओं के नाम जोड़े गए

18 से 19 वर्ष आयु के जिले में 36295 मतदाता

प्रति हजार पुरुष मतदाताओं पर महिला मतदाताओं की संख्या 873 से बढ़कर 876 हुई

50159 मृतक, शिफ्टेड मतदाताओं का हुआ चिन्हांकन, सूची से नाम हटाया गया

25788 मतदाताओं के फॉर्म-8 भरवा कर अशुद्धियों को किया दूर



अलीगढ मीडिया न्यूज़, अलीगढ 22जनवरी(सूवि)  जिला निर्वाचन अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने बताया है कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 01 जनवरी, 2024 को आधार मानते हुये विधानसभा निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 27 अक्टूबर 2023 से प्रारम्भ हुआ था, जोकि 23 जनवरी, 2024 को पूर्ण हुआ है। मतदाता पुनरीक्षण कार्य सम्पन्न होने के उपरान्त मतदाता सूची का अन्तिम प्रकाशन जिला स्थित समस्त मतदान केन्द्रों में एवं विहित स्थलों पर किया गया है।


उन्होंने बताया है कि मतदाता सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम में 27 अक्टूबर 2023 से 23 जनवरी 2024 के मध्य ऑनलाइन एवं ऑफलाइन पद्धति से दावे एवं आपत्तियाँ प्राप्त करते हुये घर-घर सर्वेक्षण के साथ-साथ समस्त माध्यमों से साक्ष्य जुटाते हुये मृतक एवं स्थायी रूप से बाहर गये हुये, डुप्लीकेट मतदाताओं का चिन्हांकन करते हुये मतदाता सूची को अद्यावधिक एवं शुद्ध बनाये जाने के प्रयास किये गये हैं। इस सम्पूर्ण प्रकिया में जन-सामान्य को जागरूक करने के साथ-साथ विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को भी सम्पूर्ण प्रकिया से अवगत कराया गया है और विभिन्न राजनैतिक दलों के द्वारा भी प्रत्येक बूथ पर अपने बूथलेवल सहायक की तैनाती की गई है, ताकि पारदर्शी तरीके से मतदाता सूची शुद्ध एवं समावेशी बन सके। इस महत्वपूर्ण एवं वृहद कार्य में विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण की अवधि में कई उल्लेखनीय कार्य सम्पादित किये गये हैं।


उप जिला निर्वाचन अधिकारी पंकज कुमार ने बताया है कि मतदाता सूची को समावेशी एवं शुद्ध बनाये जाने की दृष्टि से विभिन्न राजनैतिक दलों के साथ जनपद स्तर पर 13,  25, अक्टूबर 28 नवम्बर, 01 दिसम्बर, 06 दिसम्बर एवं 29 दिसम्बर में बैठकें करते हुये उन्हें निर्वाचक नामावलियों को अद्यावधिक रूप से तैयार किये जाने के सम्बन्ध में प्राप्त दावे एवं आपत्तियों से अवगत कराया गया है। उनसे यूथलेवल पर अपने सहायकों को सक्रिय किये जाने के लिए अनुरोध किया गया है। इसके साथ ही, ऑफलाइन एवं ऑनलाइन माध्यम से ज्यादा से ज्यादा अर्ह मतदाताओं को फार्म भरवाने एवं मृतक और स्थाई रूप से बाहर गये मतदाताओं को हटाये जाने के लिए


आपत्तियों को दिये जाने के लिए जागरूक किया गया है। विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण की अवधि 27 अक्टूबर से 23 जनवरी 2024 के मध्य जिले की सभी विधान सभाओं में कुल मतदाता 27,19,598 से बढ़कर 27,59,211 हो गये है। इस प्रकार आलेख्य प्रकाशन के समय जनसंख्या के अनुपात में 58.78 प्रतिशत मतदाताओं से बढ़कर वर्तमान में मतदाताओं की संख्या 59.64 प्रतिशत हो गई है। इस प्रकार अल्पावधि में मतदाताओं की प्रतिशत बढ़ोत्तरी 0.86 रही है।


जिले की सभी सात विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 27,59,211

सर्विस वोटर्स की संख्या में हुई बढ़ोतरी, 8880 के स्थान पर 8920 हुए

एनजीआरएस एवं एनजीएसपी पोर्टल पर 220 शिकायतों का कराया निस्तारण

115549 नवीन फोटो पहचान पत्र के सापेक्ष 45749 का हुआ वितरण, कार्य जारी


       उन्होंने बताया है कि विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण की अवधि में विशेष ध्यान नये मतदाताओं अर्थात् 18-19 आयु वर्ग के मतदाताओं को सम्मिलित करने की दिशा में रहा है। इस दृष्टि से विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम प्रारम्भ होने की तिथि 27 अक्टूबर 2023 को 11,468 मतदाताओं के सापेक्ष 24791 मतदाताओं की वृद्धि करते हुये यह संख्या वर्तमान में 36,259 मतदाताओं की हो गई है। इस प्रकार 18-19 आयु वर्ग के मतदाताओं में आलेख्य प्रकाशन से वर्तमान अवधि में प्रतिशत बढ़ोत्तरी 0.25 के सापेक्ष 0.78 रही है।

       मतदाता सूची को समावेशी बनाये जाने की दृष्टि से महिला मतदाता की संख्या में बढ़ोत्तरी किये जाने के प्रयास किये गये हैं और इस दृष्टि से आलेख्य प्रकाशन के समय 1000 मतदाताओं के सापेक्ष 873 महिला मतदाताओं की स्थिति से सुधार करते हुये अन्तिम प्रकाशन की तिथि 23 जनवरी 2024 में अब महिला मतदाताओं की संख्या 876 हो गई है। मतदाता सूची की शुद्धता सुनिश्चित करने के लिये आवश्यक है कि मतदाता सूची के अन्दर कोई भी ऐसा नाम सम्मिलित न रहे जिसकी मृत्यु हो गई हो या जो एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थाई रूप से चला गया हो या जो किसी अन्य कारण से योग्य न हो, इसको सुनिश्चित करते हुये केवल इस अवधि में 50159 ऐसे मतदाताओं का चिन्हांकन किया गया है, जो मतदाता सूची में उपरोक्त कारणों में से किसी भी एक कारण से अनर्ह थे और इन सभी मतदाताओं को नोटिस देते हुये उनका नाम मतदाता सूची से अपमार्जित किये जाने की कार्यवाही की गई है, जोकि मतदाता सूची को शुद्ध किये जाने की दृष्टि से एक आवश्यक कार्यवाही थी।


        मतदाता सूची में विभिन्न प्रकार की लिपिकीय त्रुटियों में सुधार, दिव्यांग मतदाताओं का चिन्हांकन, मतदाता फोटो पहचान पत्र की अशुद्धता एवँ त्रुटियों को दूर किया जाना एवं एक मतदाता के रूप में किसी व्यक्ति का एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानान्तरित हो जाना, चाहे वह एक ही विधानसभा के अन्दर हो या एक विधानसभा से दूसरी विधानसभा में हो। इन सभी को सम्मिलित करते हुये भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा फार्म-8 की व्यवस्था दी गई थी, जिसका मुख्य उद्देश्य पहले से सम्मिलित मतदाता को स्थानान्तरण की दशा में नये सिरे से मतदाता फार्म भरने से बचाना था, ताकि किसी भी रूप में किसी भी मतदाता का नाम एक स्थान पर न रह जाये। उक्त दृष्टि से जनपद को अन्दर 25,788 मतदाताओं के फार्म-8 भरवाकर उनमें उपरोक्त चारों प्रकार की कमियों को दूर कराकर मतदाता सूची को शुद्ध कराने का प्रयास किया गया है। आलेख्य प्रकाशन की तिथि 27 अक्टूबर 2023 में कुल सर्विस मतदाताओं की संख्या 8,880 थी, जिसे इस अवधि में बढ़ाकर दिनांक 23 जनवरी 2024 को 8,920 किया गया है। जनसामान्य को एनजीआरएस, एनजीएसपी पोर्टल पर  01 जनवरी 2023 से 23 जनवरी 2024 तक ऑनलाइन माध्यम से कुल 220 शिकायतें प्राप्त हुई हैं, जिनका समयबद्ध तरीके से निस्तारण किया गया है।


      नवीन बने हुये मतदाताओं के मतदाता फोटो पहचान पत्र में से 1,15,549 के सापेक्ष 45,749 मतदाता फोटो पहचान पत्रों का वितरण मतदाताओं को कर दिया गया है। अवशेष मतदाता फोटो पहचान पत्र बनने की प्रकिया में हैं जिनको निर्धारित समय में वितरित कर दिया जाएगा।

------------------------------------------------------

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)