जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

जीबीसी के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए नोडल अधिकारियों के साथ की बैठक

0

 


 डीएम ने जीबीसी की सफलता के लिए निवेशकों से की मुलाकात 

1360 करोड़ के अतिरिक्त प्रस्ताव जीबीसी रेडी श्रेणी के हुए प्राप्त

जिले में 27711 लोगों को उपलब्ध होगा रोजगार

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ: लखनऊ में 19 फरवरी को प्रस्तावित ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के दृष्टिगत आज विभिन्न उद्यमियों एवं निवेशकों के साथ बैठक कर जीबीसी के लम्बित प्रस्तावों की समीक्षा की गयी। जिले में अब तक 8400 करोड़ की 226 परियोजनाएं जीबीसी के लिए तैयार हो गई हैं। शासन द्वारा जिले को 11000 करोड़ निवेश का लक्ष्य दिया गया है। जिलाधिकारी विशाख जी0 ने शुक्रवार को औद्योगिक आस्थान एवं तालानगरी का भ्रमण कर निवेशकों एवं उद्यमियों से मुलाकात एवं विभिन्न इकाइयों के संचालन का अवलोकन किया। संयुक्त आयुक्त उद्योग बीरेन्द्र कुमार ने बताया कि ग्राउण्ड ब्रेक्रिंग सेरेमनी के लिए 226 प्रोजेक्ट तैयार हो गये हैं।


डीएम ने की अन्तर्विभागीय समन्वय बैठक :

ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी के लिए शासन द्वारा आवंटित 11000 करोड़ के लक्ष्य के सापेक्ष 8400 करोड़ के लक्ष्य को प्राप्त करने के उपरान्त जिलाधिकारी विशाख जी0 ने नोडल अधिकारियों के साथ अन्तर्विभागीय समन्वय बैठक की। उन्होंने अलीगढ़ विकास प्राधिकरण, यूपीसीडा, फूड प्रोसेसिंग समेत अन्य अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह निवेशकों द्वारा किए गये एमओयू के सापेक्ष उनके प्रस्ताव जीबीसी के लिए जल्द से जल्द तैयार कराएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि एमओयू धारकों से निरंतर संपर्क में रहते हुए उनकी समस्याओं का निराकरण कराएं ताकि शासन द्वारा आवंटित लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके। बैठक में उपस्थित आए जिला उद्यान अधिकारी को विभाग से संबंधित हुए एमओयू की समुचित जानकारी उपलब्ध न कराए जाने पर स्पष्टिकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये।


8400 करोड़ के 226 प्रस्ताव जीबीसी के लिए तैयार :

एमएसएमई एवं निर्यात उद्यम के 2909.50 करोड़ के 127, हार्टीकल्चर के 1595.59 करोड़ के 21, पर्यटन विभाग के 247.80 करोड़ के 13, शहरी विकास के 849 करोड़ के 02, यूपीसीडा के 284.65 करोड़ के 04, सहकारिता के 141.85 करोड़ के 07, दुग्ध विकास के 104.94 करोड़ के 08, आवास विकास के 1054 करोड़ के 05, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के 125 करोड़ के 03, चिकित्सा शिक्षा के 74 करोड़ के 04,  तकनीकी शिक्षा के 37.09 करोड़ के 15, आयुष के 23.44 करोड़ के 02, हथकरघा के 20 करोड़ का 01, पशुपालन के 13.03 करोड़ के 06, अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत के 08.29 करोड़ के 02, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि का 3.50 करोड़ का 01, वन विभाग के 4.5 करोड़ के 04, कृषि विभाग के 02 करोड़ का 01 समेत लगगभ 8400 करोड़ के 226 प्रोजेक्ट ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी के लिए तैयार हैं। एमओयू के धरातल पर क्रियान्वित होने के उपरान्त जिले में 27711 नये रोजगार सृजित होंगे। शुक्रवार को आयोजित बैठक में विभिन्न प्रकरणों के स्तर से रूपये 1360 करोड़ के अतिरिक्त प्रस्ताव जीबीसी रेडी श्रेणी के प्राप्त हुए हैं, जिसके संबंध में अग्रेतर कार्यवाही के लिए जेडी इंडस्ट्रीज को निर्देशित किया गया।

          बैठक में सीडीओ आकांक्षा राना, एडीएम प्रशासन पंकज कुमार, जेडी इंडस्ट्रीज बीरेन्द्र कुमार समेत प्रमुख निवेशक एवं विभागीय नोडल अधिकारी उपस्थित रहे।

------

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)