जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

हवाई अड्डे के लिए जमीन अधिग्रहण में रिश्वत लेते गिरफ्तार लेखपाल निलबित, अन्य सभी का तबादला

0


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ: डेढ़ लाख की रिश्वत लेते गिरफ्तार हुए लेखपाल को जिला प्रशासन ने निलंबित कर दिया है| आरोप है कि रिपोर्ट लगाने के नाम पर लेखपाल ने ली थी डेढ़ लाख की रिश्वत| हवाई अड्डे के लिए जमीन अधिग्रहण में ली रिश्वत, लेखपाल नारायण प्रताप सिंह को गिरफ्तार किया गया, विजिलेंस टीम ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार, अलीगढ़ कोल तहसील में तैनात था गिरफ्तार लेखपाल| 

नरायण प्रताप सिंह लेखपाल तहसील कोल द्वारा हवाई पटटी के विस्तार हेतु भूमि के अधिग्रहण के कार्य में अपने दायित्वों का निर्वहन न कर उक्त कार्य करने हेतु उत्कोच लेते हुए विजिलेन्स टीम आगरा द्वारा दिनांक 05.02.2024 को गिरफ्तार किया गया है। उपरोक्त लेखपाल की गिरफ्तारी के उपरान्त उप जिलाधिकारी कोल के पत्र संख्या 50/आर०के० दिनांक 06.01.2024 के अन्तर्गत तत्काल प्रभाव से गिरफ्तारी की तिथि से निलम्बित किया गया है तथा विभागीय कार्यवाही भी शुरू कर दी गई है।


हवाई पट्टी विस्तारीकरण कार्य के महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट की महत्वता/कार्य की पारदर्शिता, सुचिता के दृष्टिगत वर्तमान में विस्तारीकरण का कार्य कर रहे समस्त लेखपालों का तत्काल प्रभाव से जिले की अन्य तहसीलों में स्थानान्तरण कर दिया गया है।

(1)-श्री नरायण प्रताप सिंह निलम्बित लेखपाल स्थानान्तरण तहसील अतरौली

(2)-श्रीमती दीपिका वार्ष्णेय लेखपाल (पत्नी) स्थानान्तरण तहसील-अतरौली

(3) श्री उमेश चन्द्र शर्मा लेखपाल स्थानान्तरण तहसील-खैर।

(4)-श्री संजय तौमर लेखपाल स्थानान्तरण तहसील-खैर।


इसके अतिरिक्त हवाई पट्टी विस्तारीकरण का कार्य देख रहे राजस्व निरीक्षक धनीपुर श्री पंकज गुप्ता को भी अन्य तहसील में स्थानान्तरण कर दिया गया है। प्रकरण की सम्यक् जॉचोपरान्त यदि अन्य लेखपाल / राजस्व निरीक्षक यदि दोषी पाये जाते हैं तो सम्बंधित के विरूद्ध भी नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

डी०एम० विशाख जी० द्वारा विभिन्न योजनाओं हेतु जमीन अधिग्रहण/कय संबंधी कार्यवाही कराये जाने हेतु सम्बन्धित ग्रामों में वरिष्ठ अधिकारियों के द्वारा कैम्प का आयोजन करते हुये कार्यवाही सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश अपर जिलाधिकारी (वि०/रा०) एवं अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) को दिये गये ताकि सम्पूर्ण प्रकिया को पारदर्शी तरीके से सम्पादित कराई जा सके।


प्रशासनिक अधिकारियों की संवेदनशीलता कार्यालय में समय से उपस्थिति की औचक जाँच जिलाधिकारी श्री विशाख जी. के द्वारा की गई। जाँच के दौरान पाया गया कि श्री सुधीर सोनी, उप जिलाधिकारी (न्यायिक) तहसील इगलास दिनांक 06.02. 2024 को समय 11-40 बजे तक तहसील इगलास कार्यालय में उपस्थित नहीं थे और न ही कलेक्ट्रेट में उपस्थित थे उनसे दूरभाष पर भी कोई सम्पर्क स्थापित नहीं हो सका। इसलिए जिलाधिकारी द्वारा उनका एक दिवस का वेतन बाधित करते हुए 02 दिन में स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिये गये हैं कि क्यों न उनके विरूद्ध अग्रेतर विभागीय कार्यवाही प्रचलित कर दी जाये।


डीएम ने इगलास तहसील एवं ब्लॉक का किया निरीक्षण

जिलाधिकारी विशाख जी0 द्वारा इगलास के तहसील एवं ब्लॉक कार्यालय का निरीक्षण किया गया। एसडीएम महिमा सिंह से तहसील के ग्रामों, नगर पंचायत, थाना एवं तहसील स्टाफ के बारे में जानकारी प्राप्त की। तहसीलों में इंफ्रास्ट्रक्चर की कमी नहीं होनी चाहिए। ब्लॉक में स्थापना बाबू वीरेन्द्र सिंह द्वारा अभिलेखों का समुचित रखरखाव करने के लिए प्रशंसा की गयी। तहसील इगलास पहुॅचे जिलाधिकारी विशाख जी0 ने ग्राम चामड़ से चकरोड पैमाइश की समस्या लेकर आए पन्नालाल को सुना। डीएम ने समस्या सुन बीडीओ को तत्काल दूरभाष पर निर्देशित किया कि कल से चकरोड का कार्य आरम्भ कराएं। ईवीएम-वीवीपैट प्रशिक्षण केंद्र का निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिये। आर0के0 श्रीकांत एवं राजपाल की पटल देखी, अभिलेख सुव्यवस्थित न पाए जाने पर समुचित रखरखाव करने के निर्देश दिये। संग्रह कार्यालय में एडब्लूबीएन विनय कुमार से बड़े बकाएदारों एवं तहसीलदार से आरसी के ऑनलाइन मिलान के बारे में जानकारी की। उन्होंने राजस्व अभिलेखागार में विभिन्न पत्रावलियों को भी देखा। 


मतदाता पंजीकरण केंद्र के निरीक्षण के दौरान एसडीएम को निर्देशित किया कि महाविद्यालयों में 18-19 वर्ष के नवीन मतदाताओं का पंजीकरण सुनिश्चित किया जाए । एसडीएम ने बताया कि सुरक्षित इगलास विधानसभा में 334 मतदान केंद्र एवं 459 बूथ हैं। 08 एईआरओ, 45 सुपरवाइजर एवं 459 बीएलओ के माध्यम से मतदाता पुनरीक्षण का कार्य संपन्न कराया गया। वर्तमान में इगलास में 394103 मतदाता हैं। 


विकासखण्ड कार्यालय के निरीक्षण के दौरान बीडीओ अवधेश मिश्रा ने डीएम को बताया कि 67 ग्रामों के सापेक्ष 04 एडीओ एवं 10 सचिव कार्यरत हैं। जिलाधिकारी ने एपीओ मनरेगा हिमांशु भारद्वाज से मनरेगा से विकसित किये गये खेल के मैदान एवं अमृत सरोवर के बारे में जानकारी की। एडीओ आईएसबी ने महिला स्वयं सहायता समूह के बारे में जानकारी दी। कार्यालय में पत्रावलियों का उचित रख-रखाव पाया गया। इस दौरान ब्लॉक प्रमुख अरूण फौजी, एसडीएम न्यायिक सुधीर जैन एवं एसडीएम न्यायिक उपस्थित रहे। 

------

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)