जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

एएमयू के प्रोफेसर असद यू खान को जीपीएस द्वारा उच्च रैंक के विद्वानों में चुना गया

0


अलीगढ़ 8 मईः प्रोफेसर असद यू खान, इंटरडिसिप्लिनरी बायोटेक्नोलॉजी यूनिट, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी ने वैश्विक स्तर पर माइक्रोबायोलॉजी के क्षेत्र में 39वीं रैंक हासिल की हैैै। उनका चयन जीपीएस स्काॅलर द्वारा किया गया है, जो दुनिया का सबसे व्यापक स्कॉलरली एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म है। उन्हें तीन भारतीय उच्च रैंक वाले विद्वान‘ के रूप में भी पहचाना गया। जीपीएस स्काॅलर द्वारा माइक्रोबायोलॉजी के क्षेत्र में दुनिया के 67 विद्वानों को सूचीबद्ध किया गया है।

उच्च रैंक वाले विद्वान सबसे अधिक उत्पादक (प्रकाशनों की संख्या) लेखक होते हैं जिनकी रचनाएँ गहरा प्रभाव (उद्धरण) और अत्यंत गुणवत्ता (एच-इंडेक्स) वाली होती हैं।
स्कॉलरजीपीएस उच्च रैंक वाले विद्वानों की पहचान करने के लिए उपयोग किया जाने वाला डेटा जीवनकाल या पिछले पांच वर्षों की गतिविधि पर आधारित होता है, प्रत्येक प्रकाशन और कई लेखकों द्वारा उद्धरण को महत्व दिया जाता है। इस रैंकिंग अध्ययन में निष्क्रिय, मृत और सेवानिवृत्त विद्वानों को भी शामिल किया गया है।
प्रोफेसर खान को रोगाणुरोधी प्रतिरोध के क्षेत्र में उनके असाधारण काम के लिए भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय सहित विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक संगठनों द्वारा पुरस्कार और सम्मान से भी नवाज़ा जा चुका है।
---------------------
क्लाइंट परामर्श प्रतियोगिता आयोजित की गई
अलीगढ़ 8 मईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के विधि संकाय द्वारा दो दिवसीय क्लाइंट परामर्श प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसमें छात्रों की 27 टीमों ने भाग लिया।
अपने उद्घाटन भाषण में विधि संकाय के डीन प्रो. एम.जेड.एम. नोमानी ने कहा कि ‘क्लाइंट काउंसलिंग प्रतियोगिता‘ बार काउंसिल ऑफ इंडिया की क्लिनिकल लीगल एजुकेशन का एक अभिन्न अंग है, जिसका उद्देश्य लॉ ऑफिस और सॉलिसिटर फर्म प्रबंधन के साथ-साथ छात्रों में वकालत के कौशल विकसित करना है।
शिक्षक-प्रेक्टिशनर जकीउद्दीन खैरूवाला ने कहा कि इस अनूठे आयोजन में आपराधिक कानून और अपकृत्य, अनुबंध कानून, पारिवारिक कानून, बौद्धिक संपदा कानून, पर्यावरण कानून और अंतरराष्ट्रीय कानून सहित विभिन्न विशिष्टताओं से संबंधित छात्रों के बीच काफी उत्साह देखा गया।
मध्यस्थता और विवाद समाधान सोसायटी की सचिव हुजैफा असलम ने ‘मुकदमेबाजी की जटिलताओं वाले छात्रों द्वारा वकील कौशल पर ध्यान केंद्रित करने के लिए तैयार की गई क्लाइंट समस्या‘ पर प्रकाश डाला।
डा. तबस्सुम चैधरी ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
---------------------
एमएम हॉल इंटर हॉल फुटबॉल टूर्नामेंट विजेता बना
अलीगढ़ 8 मईः मोहसिनुल मुल्क हॉल (एम.एम. हॉल) ने इंटर-हॉल फुटबॉल टूर्नामेंट 2023-24 के फाइनल में एनआरएससी को टाई-ब्रेकर मुकाबले में 4-2 से हराकर इंटर-हॉल फुटबॉल विजेता का खिताब हासिल कर लिया है। यह मैच यूनिवर्सिटी फुटबॉल ग्राउंड, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी पर खेला गया।
निर्धारित समय की समाप्ति पर दोनों टीमें शून्य पर रहीं। अंत में इस का फैसला पेनल्टी शाूटआउट से हुआ हुआ और एमएम हॉल की टीम यह मैच 4-2 से मैच जीत लिया। एमएम हॉल के लिए नादिर केएम,  फहीम, साकिब खान और राशिक के ने एक एक गोल किया जबकि एनआरएससी के लिए इबाद और हामिद ने एक-एक गोल किया।
पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि एएमयू के पूर्व कुलपति प्रोफेसर मोहम्मद गुलरेज, मानद अतिथि प्राचार्य एके तिब्बिया कॉलेज, प्रोफेसर बीडी खान, निदेशक यूजीसी एचआरडीसी डॉ. फायज़ा अब्बासी, निदेशक आईटी एवं जिला सूचना अधिकारी, अलीगढ़ नसीम अहमद और प्रोफेसर मोहम्मद परवेज ने विजेता और उपविजेता टीमों को पुरस्कार वितरित किए।
प्रोफेसर गुलरेज ने सर्वांगीण व्यक्तित्व विकास में ऐसी गतिविधियों के महत्व पर जोर देते हुए छात्रों से ऐसे आयोजनों में सक्रिय रूप से भाग लेने का आग्रह किया।
फुटबॉल क्लब के अध्यक्ष मोहम्मद अनस ने अतिथियों का स्वागत किया और कप्तान दानिश खान ाने धन्यवाद ज्ञापित किया।
मैच का संचालन फुटबॉल कोच एस तुफैल उर रहमान, महजूर, इनाम खान और मुंतजिर ने किया।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)