जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

लव जिहाद का शिकार हुई छात्रा की हत्या के विरोध में अखिल भारतीय करणी सेना ने सौंपा ज्ञापन

0



गजेंद्र कुमार,अलीगढ़ मीडिया ब्यूरो-अखिल भारतीय करणी सेना के पदाधिकारियों ने प्रदेश अध्यक्ष ठा0 ज्ञानेंद्र सिंह चौहान के नेतृत्व में बरेली में लव जिहाद का शिकार हुई नाबालिग हिंदू छात्रा की हत्या के विरोध में जिला मुख्यालय अलीगढ़ पर प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसीएम द्वितीय संजय मिश्रा को सौंपा।


 अखिल भारतीय करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष ठा0 ज्ञानेंद्र सिंह चौहान ने बताया के बरेली में फरियाद  नामक जिहादी मुस्लिम युवक द्वारा एक नाबालिग हिंदू छात्रा को लव जिहाद का शिकार बनाकर धर्मांतरण का दबाव बनाया जा रहा था छात्रा द्वारा धर्मांतरण से इनकार करने पर आरोपी फरियाद ने ट्रेन के सामने धक्का देकर हिंदू छात्र की नृशंस हत्या कर दी इसी संदर्भ में आज जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया गया है तथा मांग की गई है कि आरोपी फरियाद को तुरंत फांसी की सजा दी जाए एवं लव जिहाद व धर्मांतरण जैसे गंभीर मुद्दों में सख्त कानून के तहत फांसी की सजा का प्रावधान किया जाए जिससे कोई भी जिहादी इस तरह की घटना करने का  दुस्साहस ना कर सके। प्रदेश अध्यक्ष महिला शक्ति ममता सिंह ने हिंदू बेटियों से अपील की है कि किसी भी तरह इन जिहादियों के चंगुल में ना फसें क्योंकि इनका उद्देश्य सिर्फ हिंदू बेटियों को फंसा कर उनका शोषण करना एवं धर्मांतरण कराना होता है और उनकी बात न मानने पर जिहादियों द्वारा हिंदू बेटियों की हत्या कर दी जाती है। जिलाध्यक्ष संजय चौधरी ने बताया कि हमने सरकार से मांग की है कि बरेली घटना में मृत हिंदू छात्रा के परिजनों को उचित सरकारी सहायता उपलब्ध कराई जाए। 



इस अवसर पर ओ पी सिंह राघव,राजकुमार सिंह चौहान,सुंदर राघव, रविंद्र चौधरी, कोल विधानसभा अध्यक्ष कन्हैया सिंह तोमर, राजेंद्र मॉर्गन, आशीष शर्मा, राजेश वशिष्ठ, अरविंद कुमार, जगमोहन मालवीय, तरुण कुमार, संदीप राघव,गिरीश सिंह, वीरेंद्र सिंह, विकास दीक्षित पिंटू, खेम सिंह वर्मा, प्रमोद सिंह,गौरव सिंह, भूरा ठाकुर, रजत सिंह, प्रदीप राघव,अजय कुमार, भुवनेश शर्मा, अंकुर, बरौली विधानसभा अध्यक्ष ठा0 शीशपाल सिंह,अजय लोधी, कृष्णा लोधी सहित बड़ी संख्या में अखिल भारतीय करणी सेना के सदस्य उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)