जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

Aligarh: नगर निगम के चमचाते बैंडिग जोन, जिसमें खानपान आपको सीधे पहुचायेगा अस्पताल!

0

 


नाले नालियों के ऊपर कीडे मकोड़े में बना रहे बधबूदार फास्ट फूड*  

*जीव उपकार संस्था ने स्वास्थ विभाग एंव फूड विभाग को लिखा पत्र*

*बिन बरसात बाहर आ जाता है नाले का पानी, निगम ने बना रखा है वेडिंग जोन, हर रोज सैंकड़ों लोगों का होता है इधर ठहराव*


अलीगढ मीडिया डिजिटल, अलीगढ़| स्मार्ट सिटी नाम तो दे दिया गया, वहीं कागज पर ही खुद की पीठ थप थपा ली गई, लेकिन ऐसा एक भी कार्य नहीं हुआ, जिसे लेकर अलीगढ के लोग बाहरी रिश्तेदारों को गर्मी की छुट्टी में बुला सकें। यदि किसी को बुला भी लें तो गंदगी और बिन बरसात जलभराव के दर्शन कराने जरूर पड़ जायेंगे। खैर,, यहां बात इसी सूरत की हो रही है। जिस स्थान को वी वी आई पी क्षेत्र बोला जाता है, फिलहाल वह कीचड़ में फंसा हुआ है। 


जीव उपकार संस्था के सचिव राहुल पाठक उपकार संस्थान पूर्व कप्तान अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी ने कहा कि आखिर शासन प्रशासन कौन सी अनहोनी होने का इंतजार कर रहा है जनता बहुत परेशान है निकलने में दिक्कत हो रही है और जहां भी संत फिदेलिश के सामने पकोड़े जो तल रहे हैं नीचे नल का पानी है जो की जनता की सेहत के लिए बिल्कुल ठीक नहीं है रामघाट रोड स्थित ए डी ए दफ्तर के सामने नगर निगम द्वारा वेडिंग जोन बनाया गया था, जहां शाम होते ही फास्ट फूड की ढकेल लगना शुरू हो जाती हैं। जहां हर रोज सैंकड़ों लोगों का ठहराव फास्ट फूड खाने के लिए होता है। लेकिन फिलहाल इधर की हालत बुरी है। बिन बारिश इधर जलभराव हो गया है। नाले का गंदा पानी बाहर आ गया है, जिससे बीमारी को बढ़ावा तो मिलेगा ही वहीं ढकेल वालों के रोजगार पर भी ग्रहण पड़ेगा। 


वहीं वार्ड 53 के अध्यक्ष सुमित शर्मा ने कहा कि नगर निगम के अधिकारी और मेयर साहब को अवगत कराता हूं की लेडी फातिमा पर जो धकेल लग रही हैं उनके नीचे गंदे नाले का पानी भरा हुआ है ऐसी भीषण गर्मी में वैसे ही लोग बीमार पड रहे हैं और वह ऊपर से पकौड़े तल रहे हैं जिससे अलीगढ़ की जनता ये गंदगी की चाट पकौड़ी खाकर बीमार पड़ सकती है और भी अनेकों बीमारियां हो सकती हैं नगर निगम व मेयर प्रशान्त सिंघल को इस ओर ध्यान देने की आवश्यकता है। 


तत्कालीन नगर आयुक्त गौरांग राठी का यह स्थान ड्रीम प्रोजेक्ट था। इसे जूहू चौपाटी की तरह उन्होंने तैयार कराया था। शाम होते ही यह स्थान गुलजार हो जाता है। आसपास के ही नहीं बल्कि राहगीर भी फास्ट फूड का भरपूर लुत्फ उठाते हैं। जिसे वर्तमान नगर आयुक्त निरंतर नहीं रख पा रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)