जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

#अलीगढ में गोधा इलाके से ज़मीनी विवाद का वीडियो वायरल, सप्ताहभर बाद भी मामले FIR नहीं हुईं दर्ज

0


अलीगढ मीडिया डिजिटल, ब्यूरो अलीगढ| जनपद के गोधा थाना इलाके के गाँव मेमड़ी में दिनदहाड़े खेत पर कब्जा करने आए लोगों ने तमंचे से फायरिंग की। इसके चलते दहशत फैल गई। एक बालिका के हाथ को गोली मपाल सोनू छूकर निकल गई। और खेत में खड़ी फसल को ट्रेक्टर चलाकर नष्ट कर दिया|इसकी वीडियो बना रहे लोगों से कब्ज़ा कराने वालों ने मोबाईल फ़ोन छीन लिए| घटना 11जून की बताई जा रहीं है|मामले में सूचना पर पुलिस पहुंची लेकिन पुलिसटीम में उपनिरीक्षक ने फसल को बर्बाद करके खेत पर कब्ज़ा कर रहे लोगों को रोकने के बजाय पीड़ित को थाने आकर तहरीर देने की सलाह देते रहे, पूरे मामले की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं है|वहीं घटना में अभी तक पुलिस ने कोई मुक़दमा दर्ज नहीं किया है| 

अलीगढ मीडिया को मिली जानकारी के मुताबिक मेमडी निवासी सुशील कुमार पुत्र गंगा सहाय ने बताया कि 16 बीघा जमीन के स्वामित्व को लेकर सिविल कोर्ट में स्नेह लता बनाम राकेश आदि के नाम से वाद चल रहा है। पिछले मंगलवार सुबह यानि 11 जून को उनके विपक्षियों ने छह ट्रैक्टर लेकर जमीन पर कब्जा करने के उद्देश्य से ज्वार, मक्का, ढँचा आदि की फसल जबरिया जोत दिए। जानकारी मिलने पर सुशील का भतीजा प्रवीण व भतीजी अनामिका खेत पर पहुंचे तो उनसे मारपीट की गई। आरोप यह भी है कि दो में लोगों ने तमंचा से फायर भी किया इसमें एक गोली अनामिका के बाजू को छूकर निकल गई। फिलहाल पुलिस ने घटना में घायलों का मेडिकल भी कराया| लेकिन अभी तक कोई मुक़दमा दर्ज नहीं किया है|


परेशान पीड़ित ने एसएसपी और DM समेत मानवाधिकार आयोग तक शिकायती पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगायी है|और पूरे विवाद की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जानकारी के मुताबिक सुशील कुमार ने करीब11 लोगों के खिलाफ नामजद और 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। लेकिन सप्ताह भर बाद भी कोई मुक़दमा दर्ज नहीं किया गया है| 



थाना प्रभारी निरीक्षक सरिता द्विवेदी ने अलीगढ मीडिया डिजिटल को दूरभाष पर बताया कि दोनों पक्षों में एक के पास वसीयत है जबकि दूसरे पक्ष के पास बैनामा है। तहरीर प्राप्त हुईं है लेकिन पीड़ित खुद थाने नहीं आ रहा है, फायरिंग के आरोप गलत है।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)