जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

#Aligarh: घर में घुसे युवक को चोरी के शक में पीट-पीटकर मार डाला, बाजार बंद कर धरने पर बैठे भाजपाई

0

 


युवक की पीट-पीटकर हत्या के बाद सेक्टर स्कीम लागू

3 सेक्टर और 11 जोन में अलीगढ़ शहर को बांटा गया

11 सेक्टर मजिस्ट्रेट के अलावा 7 CO, 7 SDM की तैनाती

एक कंपनी RAF, 3 कंपनी PAC के साथ पुलिस फोर्स तैनात

पुलिस के साथ सेक्टर मजिस्ट्रेट की भी की गई तैनाती 

ड्रोन कैमरे से पूरे इलाके की निगरानी की जा रही है

सोशल मीडिया पर निगरानी के लिए टीम गठित की गई


अलीगढ मीडिया डिजिटल, अलीगढ़| एक घर में घुसे युवक को पीटने के बाद वो बेहोश हो गया। पुलिस उसे अस्पताल लेकर पहुंची लेकिन उसकी मौत हो गई। मिश्रित इलाके में हुई दो समुदाय से जुड़ी घटना के बाद तनाव की आशंका को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। पुलिस ने कुछ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही हत्या का मुकदमा भी पंजीकृत किया, मामू भांजा मोहल्ला रंगरेजान निवासी मुकेश चंद्र मित्तल की घर के नीचे दुकान है। वे परिवार के साथ ऊपरी मंजिल पर रहते हैं, जिसका रास्ता दुकान के बराबर में झीने से है। यहां दरवाजा भी लगा है।



 मंगलवार को साप्ताहिक बंदी के चलते मुकेश व परिवार के सदस्य घर पर ही थे। रात में मुकेश के बेटे रोहित से उनका परिचित राहुल मिलने के लिए आया था। इसके चलते दरवाजा खुला था।देररात करीब साढ़े 10 बजे राहुल वापस जाने के लिए नीचे उतर रहा था। उसी समय एक युवक झीने से ऊपर चढ़ता दिखा। राहुल तेजी से नीचे की ओर दौड़ा। इसी बीच युवक नीचे दरवाजे पर आ गिरा। इससे उसके चोट आई। शोर मचाने पर रोहित व अन्य लोग आ गए। इसके बाद चोरी के शक में युवक की लाठी-डंडों से पिटाई कर दी। इसी बीच किसी ने पुलिस को जानकारी दे दी। पुलिस के आने पर युवक बेहोश हो गया। दारोगा ने उसे कंधे पर कंधे पर उठाया और गाड़ी से अस्पताल पहुंचाया। वहां उसे मृत घोषित कर दिया गया |

अलीगढ़ शहर को 3 सेक्टर और 11 जॉन में किया डिवाइड:एटीएम सिटी

अलीगढ़ एटीएम सिटी अमित कुमार भट्ट ने सेक्टर स्कीम लागू होने के संबंध में जानकारी दी उन्होंने बताया कि अलीगढ़ में युवक की पीट पीट कर हत्या के बाद सेक्टर स्कीम लागू कर दी गई है जिसमे अलीगढ़ शहर को 3 सेक्टर और 11 जॉन में डिवाइड किया गया है। 11 सेक्टर मजिस्ट्रेट के अलावा 7 सीओ और 7 एसडीएम की तैनाती की गई है ,एक कंपनी RAF और तीन कंपनी पीएसी के साथ स्थानीय फोर्स की तैनाती भी की गई है साथ ही यह भी बताया कि पुलिस के साथ सेक्टर मजिस्ट्रेट की भी तैनाती की गई है,चप्पे चप्पे पर नजर रखने के लिए ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है ,सोशल मीडिया पर निगरानी के लिए एक टीम का गठन भी किया गया.दोनों पक्ष के सभ्रांत व्यक्तियों के साथ वार्ता कर पूर्ण रूप से संतुष्ट किया गया है। शहर में सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से पूर्ण शांति बनी हुई है।

 व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने शांति बनाए रखने की अपील की

जिलाध्यक्ष प्रदीप गंगा ने कहा कि जब तक पुलिस प्रशासन को  पूर्ण रूप से साक्ष्य प्राप्त न हो जाए  किसी भी व्यापारी को नहीं पकड़ा जाना चाहिए। जो व्यापारी पकड़े गये है उन्हें साक्ष्यों के अभाव में तुरंत रिहा किया जाना चाहिए। पुलिस प्रशासन किसी पक्ष के दवाव में न आते हुऐ निष्पक्ष कार्यावाही करें। अगर किसी भी निर्दोष व्यापारी को फंसाया गया तो व्यापार मंडल अलीगढ़ के सभी बाजार वन्द कराने के लिए विवश होगा । किसी भी कीमत पर निर्दोष व्यापारियों को जेल में नहीं जाने दिया जाएगा। जिला चैयरमेन कालीचरन वार्ष्णेय ने स्पष्ट रुप से कहा कि व्यापारी हमेशा से शांति प्रिय रहा है । जबरन उसे गलत तरीके से फंसाकर उत्पीड़न किया गया तो अलीगढ़ के सभी व्यापारी संगठन सड़कों पर उतरकर बाजारो को भी बन्द रखेंगे। इसलिए पुलिस प्रशासन इसे हिंदू मुस्लिम न बनाते हुए निर्दोष व्यापारीयों को तुरंत रिहा करें।


 


एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)