जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

#Aligarh: बिजली के में तैनात जेई और स्टाफ की अवैध वसूली से परेशान लोग

0

 


मुख्य अभियंता और एसई का किया दर्जनों महिला पुरूषों ने घेराव,

दोनों अधिकारियों ने दिया पीड़ितो का हरसम्भव कार्यवाही करने का आश्वासन

अलीगढ़ मीडिया डिजिटल, न्यूज़ ब्यूरो,अलीगढ। एक ओर अघोषित बिजली कटौती से पूरे जिले में हाहाकार मचा हुआ है वहीं दूसरी ओर बिजली चोरी पर अंकुश लगाने हेतु चेकिंग टीम मॉर्निंग रेड कर रही है। लेकिन ज्यादातर मामलों में अवैध वसूली, विवाद और मारपीट की घटनाएं भी सामने आ रहीं है। बिजली विभाग में चोरी रोकने के लिए काफी समय से चेकिंग अभियान चला रहा है लेकिन अब सुबह होने वाली चेकिंग के नाम पर वसूली और समझौता संबंधी शिकायतों ज्यादा हो रही है । बताया जाता है विभागीय चेकिंग टीम अमुक स्थानों पर पहले वीडियो तैयार करता है इसके बाद संबंधित से नापतोल शुरू हो जाती है । ज्यादातर मामले में समझौता ही हो जाता है ,जब ज्यादा रकम मांगी जाती है। तभी कोई विवाद होता है। इससे मामला पुलिस तक पहुंच जाता है।

ऐसा ही अजीबो गरीब मामला कोतवाली क्षेत्र के भुजपुरा बिजली घर का प्रकाश में आ रहा है जिसमें बिजली घर के स्टाफ की अवैध वसूली से स्थानीय लोग परेशान है। भुजपुरा के लोगों में रहीला बेगम,हसीना बेगम,राबिया बेगम,मीना,जैतून बेगम,जाहिद,अफजाल, सलमान,शम्मा, शहजाद,आरिफ,जुनैद, शाकिर,अरीबा,बबलू ,सत्तार,जब्बार ,नफीस,लल्ला उर्फ फिरोज,, शोहेब मलिक,आदि एकत्रित होकर मुख्य अभियंता विद्युत निगम से मिले जहां से सभी लोगों को कार्यवाही का आश्वासन देते हुये एसई पी.के,मौंगा के कार्यालय भेजा दिया जहां अधीक्षण अभियंता ने लोगों के शिकायतों को ध्यान से सुना और दोषियों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही का आश्वासन दिया।


जेई और अन्य स्टाफ से परेशान होकर भुजपुरा के रहने वाले अब्दुल मलिक पुत्र अब्दुल खालिक निवासी भूप सिंह मंदिर मुल्ला पाड़ा विकलांग व्यक्ति है। भुजपुरा विद्युत उपकेंद्र जे० प्रशांत आर्या अपने अधीनस्थ संविदा कर्मी शिवकुमार, मुकेश यादव समेत अन्य कर्मचारी के साथ स्थित भूप सिं मंदिर वाली गली में बिजली चैकिंग कर छह घरों में बिजली चोरी पकड़ी, इस दौरान सभी उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शन काट दिए, परंतु शिकायतकर्ता के दो किलो बाट घरेलू अब्दुल मलिक के नाम से. मकान पर लगा हुआ है। बिना बिजली चोरी के बिजली कनेक्शन काट दिया। तथा पीड़ित विकर व्यक्ति ने जे०ई साहब से कनेक्शन काटने की जानकारी मांगी तो उन्होंने कहा आपके कनेक्शन पर चोरी पाई है पीड़िता ने वीडियो दिखाने को कहा तो मना कर दिया। उसी दिन अनिल तोमर ने फोन कर सासनी गेट डिवीजन बुलाया और कहा तीस हजार रुपए दे दो। नहीं तो आपकी बिजली चोरी की रिपोर्ट कर कराई जाएगी जिसमें 60 हजार रुपए का जुर्माना जमा करना पड़ेगा। यह सुन कर वह कुछ देर के लिए सदमे में पड़ गया। उसने इधर उधर से दस हजार रूपए ठाकुर अनिल तोमर को देकर बिजली चोरी की रिपोर्ट खत्म करा ज्ञात रहे कि अनिल तोमर को इस बिजली उपकेंद्र पर लगभग 8 साल हो गए है। आज तक इस कर्मचारी का ट्रांसफर क्यों नहीं किया गया। यह कर्मचारी न्यू कनेक्शन की सर्वे रिपोर्ट के नाम पर अवैध रूप से पांच सौ रुपए लेता है।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)